देखो क्या आ गया जमाना-जागरूक रहना: ओटीपी पूछे और क्रेडिट कॉर्ड से 4 लाख, 52 हजार रुपए निकाले


चार लाख 52 हजार रुपए की खरीदारी
चूरू. कस्टमर केयर अधिकारी बनकर एक शातिर ठग के उपभोक्ता के क्रेडिट कॉर्ड से चार लाख 52 हजार 495 रुपए की खरीदारी करने का मामला सामने आया है। पीडि़त की ओर से इस संबंध में सदर थाने में शिकायत दर्ज कराई गई है। पीडि़त गांव रामपुरा बास निवासी प्रीतम सिंह राजपूत ने बताया कि बैंक की ओर से उसे एक क्रेडिट कॉर्ड भेजा गया, लेकिन उसने एक्टिवेट नहीं किया। इसके बाद दूसरा व तीसरा क्रेडिट कार्ड भी आ गया। पीडि़त ने बताया कि उसके खाते से पांच हजार रुपए निकाले जाने पर इस संबंध में जब कस्टमर केयर नम्बर पर बात की तो उन्होंने सर्विस चार्ज के नाम पर रुपए काटने की बात कही। इस पर उसने कॉर्ड ब्लॉक करने की बात कही तो कस्टमर केयर अधिकारी ने अपने से सीनियर अधिकारी से बात कराई। अधिकारी की ओर से दो-तीन दिन में कॉर्ड ब्लॉक करने का आश्वासन दिया। प्रीतम ने बताया कि 31 नवम्बर को उसके फोन पर कॉल आया, जिसने स्वयं को एक बैंक के कस्टमर केयर कार्यालय से बोलने की बात कही। शातिर ने उसे कॉर्ड ब्लॉक करने के लिए उसकी ओर से भेजे गए ओटीपी नम्बर बताने के लिए कहा गया, बात मानते हुए ओटीपी नम्बर बता दिए। पीडि़त ने बताया कि 26 दिसम्बर 2021 को बैंक का स्टेटमेंट चैक किया तो पता चला कि उसके खाते से अलग-अलग दिन कुल चार लाख 52 हजार 495 रुपए निकाले गए हैं। इस संबंध में बैंक के अधिकारियों को धोखाधड़ी की जानकारी देने पर उन्होंने रुपए जमा कराने का दबाव बनाया।

शहर में कैफे की जांच, केबिन में पर्दे नहीं लगाने की हिदायत
चूरू. नववर्ष की पूर्व संध्या पर कोतवाली पुलिस की ओर से शहर में कैफे की जांच के लिए अभियान चलाया गया। इस दौरान कैफे संचालकों को आईडी देकर ही प्रवेश देने, आने वाले युवक-युवतियों का नाम संधारण के लिए रजिस्टर रखने, केबिन में पर्दे नहीं लगाने आदि की हिदायत दी गई।जांच के दौरान एक कैफे में भालेरी निवासी एक युवक संदिग्ध हालत में पाया गया, इस पर परिजनों को सूचना देकर पाबंद किया गया।इस मौके पर युवक-युवतियों को पाबंद किया गया। इस मौके पर कोतवाल सतीश कुमार यादव ने कैफे में अनैतिक गतिविधियां पाए जाने पर नियमानुसार कार्रवाई के लिए चेताया।कार्रवाई में जुलू टीम की सदस्य भी मौजूद रही।



Source link