Uttar Pradesh Assembly Elections 2022: सामाजिक संगठन 'दखल' ने BJP, SP और अपना दल को सौंपा घोषणा पत्र


पत्रिका न्यूज नेटवर्क वाराणसी. सामाजिक संगठन ‘दखल’ की ओर से शुरू अभियान के तहत संगठन के सदस्यों ने रविवार को भाजपा, सपा और अपनादल को महिलाओं और ट्रांसजेडर की समस्याओं से जुड़े 21 सूत्री घोषणा पत्र सौंपा। इसके पीछे संगठन का लक्ष्य सिर्फ इतना है कि इस घोषणा पत्र को विभिन्न राजनीतिक दल Uttar Pradesh Assembly elections 2022 में अपने चुनावी घोषणा पत्र में शामिल करे।

घोषणा पत्र को सौंपते हुए संगठन ने यह मांग की कि पार्टी इसे अपने यूपी विस चुनाव के घोषणा पत्र में शामिल करे और इस पर ख़ास ध्यान दें की यदि सम्बंधित पार्टी सत्ता में आती है तो घोषणा पत्र में दिए गए बिन्दुओं पर प्राथमिकता के आधार पर काम करे।

संगठन की ओर विभिन्न दलों के नेताओं को बताया गया कि हम सभी राजनैतिक दलों से मिलकर अपनी बात रख रहे हैं। हमारी कोशिश है कि महिला व ट्रांसजेंडर की बुनियादी समस्याओं का समाधान हो। उन्हे समाज में भागीदारी का सामान अवसर मिल सके।

सपा नेता को घोषणा पत्र सौंपती संगठन दखल की कार्यकर्ताघोषणा पत्र सौंपते समय संगठन दखल के सदस्यों ने अपने सभी 21 बिंदुओं को पढ कर सुनाया। साथ ही राजनैतिक दल के नेताओं से इन बिंदुओं पर संवेदनापूर्वक विचार करने का आग्रह भी किया। भाजपा की ओर से जिला महामंत्री प्रवीण सिंह गौतम ने ज्ञापन लिया जबकि समाजवादी पार्टी कार्यालय में महिला जिलाध्यक्ष रेखा पाल को घोषणा पत्र सौंपा गया। वहीं अपना दल की ओर से नीलरतन सिंह पटेल नीलू और उदय पटेल ने घोषणा पत्र प्राप्त किया। सभी ने संगठन दखल के घोषणा पत्र पर विचार करने का आश्वासन भी दिया है।

अपना दल नेता को घोषणा पत्र सौंपती संगठन दखल की कार्यकर्ताघोषणा पत्र के बिंदु

1- महिलाओं और ट्रांसजेंडर के विरुद्ध यौन उत्पीड़न,बलात्कार, एसिड अटैक जैसी घटनाओं में दोषियों के विरुद्ध जांच, मुकदमे की कार्यवाही और फैसला 4 माह के अंदर आए। 2- शासन,प्रशासन , सत्ता और जन प्रतिनिधियों के विरुद्ध शिकायतों की जांच तीव्र गति से तथा मजिस्ट्रेट स्तर की स्वतंत्र कमेटी द्वारा किया जाए।



Source link