नोवाक जोकोविच से बोले ऑस्ट्रेलियाई PM-'सबूत दो, वरना फ्लाइट पकड़ो और घर निकलो'


Australian Open: ऑस्ट्रेलियन ओपन की शुरुआत 17 जनवरी से हो रही है। इस टूर्नामेंट को लेकर फैंस के दिलों में खासा उत्साह है। 9 बार के ऑस्ट्रेलियन ओपन चैंपियन सर्बियाई खिलाड़ी नोवाक जोकोविच (Novak Djokovic) पर सभी की निगाहें टिकी होंगी। लेकिन, ऑस्ट्रेलियन ओपन में जाते-जाते नोवाक जोकोविच विवाद करा गए हैं। फिलहाल तो नोवाक जोकोविच इस ग्रैंडस्लैम में हिस्सा लेने के लिए ऑस्ट्रेलिया पहुंच चुके हैं लेकिन ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन (Scott Morrison) के दिल पर क्या बीत रही होगी ये बात वो ही जानें। इस आर्टिकल के माध्यम से हम सीधे शब्दों में मामला समझने की कोशिश करते हैं।

नोवाक जोकोविच ने अपने सोशल मीडिया हैंडल पर एक तस्वीर पोस्ट करते हुए लिखा था, ‘मैंने ब्रेक के दौरान अपने परिवार वालों के साथ अच्छा वक्त बिताया। आज मैं विशेष छूट के साथ जा रहा हूं (ऑस्ट्रेलिया)।’ इससे पहले नोवाक जोकोविच के ऑस्ट्रेलियन ओपन में हिस्सा लेने पर संदेह बना हुआ था क्योंकि उन्होंने यह बताने से साफ मना कर दिया था कि उन्होंने वैक्सीन लगावाई है या नहीं?

नोवाक जोकोविच तो विशेष छूट के साथ ऑस्ट्रेलियन ओपन जा रहे हैं लेकिन ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन ने साफ कह दिया है कि नोवाक को अपनी विशेष मेडिकल छूट दिखानी होगी। स्कॉट मॉरिसन ने कहा कि अगर वरना नोवाक जोकोविच ऐसा नहीं करते हैं तो उन्हें अगली फ्लाइट पकड़कर वापस घर जाना पड़ेगा।

ऑस्ट्रेलियन ओपन में नोवाक जोकोविच को स्पेशल ट्रीटमेंट मिलेगी इस बात से सोशल मीडिया पर यूजर्स भी खासा खफा थे। लोगों का कहना है कि जब खिलाड़ियों को आयोजकों को अपना वैक्सीनेशन स्टेटस बताना जरूरी होता है तो फिर जोकोविच को रियायत क्यों? बढ़ते बवाल को थामने के लिए स्कॉट मॉरिसन को प्रेस कॉन्फ्रेंस करके जोकोविच को वॉर्निंग देनी पड़ी।

स्कॉट मॉरिसन का बयान- ऑस्ट्रेलियाई पीएम ने कहा, ‘कोई भी व्यक्ति जो ऑस्ट्रेलिया आ रहा है उसे बॉर्डर के नियमों को मानना ही होगा। नोवाक जोकोविच ऑस्ट्रेलिया पहुंच चुके हैं लेकिन अगर उन्होंने वैक्सीन नहीं लगवाई है तो अब लगवानी होगी। नोवाक जोकोविच को अगर स्पेशल छूट मिली है तो वो इसका सुबूत दें। उनके सुबूत का इंतजार रहेगा। अगर सुबूत काफी नहीं हुए तो फिर जोकोविच को अगली फ्लाइट पकड़कर घर जाना होगा।’



Source link