School Holiday In UP: कक्षा 10 तक सभी स्कूल कल से बंद, जानें अब कब खुलेंगे स्कूल


लखनऊ. School Holiday In UP प्रदेश में लगातार बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के मामलों के बीच सरकार ने बड़ा फैसाल लिया है योगी सरकार ने दसवीं तक के सभी सरकारी व प्राइवेज स्कूलों को बंद करने के निर्देश दिए हैं। प्रदेश सरकार ने दसवीं तक के सभी स्कूलों को 6 जनवरी से मकर संक्रांति तक बंद करने के निर्देश दिए हैं। शासन में हुई बैठक के बाद अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी ने बताया कि दसवीं तक स्कूलों को बंद किया गया है। इस दौरान 15 से 18 वर्ष के किशोरों का टीकाकरण जारी रहेगा।

सरकार ने लिया फैसला शासन ने कोरोनावायरस संक्रमण पुर लगाम लगाने के लिए जहां एक ओर स्कूलों में छुट्टी के निर्देश जारी किए हैं वहीं दूसरी और रात्रि कर्फ्यू को 2 घंटे बढ़ाया है। बृहस्पतिवार से रात्रि कर्फ्यू रात 10:00 बजे से लेकर सुबह 6:00 बजे तक रहेगा, अभी तक रात्रि कर्फ्यू 11:00 बजे से लेकर सुबह 5:00 बजे तक रहता था।

पाबंदी बढ़ाने के दिए निर्देश शासन की ओर से शासनादेश जारी करने से पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने टीम नाइन की बैठक में निर्देश दिया था कि दसवीं कक्षा के सभी निजी व सरकारी स्कूलों को मकर संक्रांति तक बंद कर दिया जाएगा। इस दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रात्रि कर्फ्यू के समय को बढ़ाने के निर्देश भी दिए थे। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कहा था कि जिन जिलों में ज्यादा संक्रमण के मामले हैं वहां पर शक्ति बढ़ाते जाए व पाबंदिया लागूं की जाएं।

मंगलवार को मिले 992 नए केस उत्तर प्रदेश में लगातार कोरोनावायरस संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं। मंगलवार को प्रदेश में कोरोनावायरस संक्रमण के 992 नए केस मिले हैं। वहीं ओमिक्रॉन वेरिएंट के 23 नए मामले सामने आए हैं। माना जा रहा है कि अगर संक्रमण की रफ्तार यही रही तो आने वाले दिनों में सरकार वीकेंड कर्फ्यू भी लगा सकती है।

ये भी पढ़ें: Petrol Rate Today (5th January 2022), Petrol Price Today in India: जानें पेट्रोल की ताजा कीमतें किसी जिले में 1000 से अधिक केस नहीं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने निर्देश दिए हैं कि जिन जिलों में संक्रमित मामले 1000 से अधिक होंगे वहां जिम, सिनेमा हॉल, बैंक्विट हॉल, रेस्टोरेंट 50% क्षमता के साथ संचालित किए जाएंगे। ऐसे जिलों में शादी समारोह में बंद स्थानों पर एक समय में 100 से अधिक लोग शामिल नहीं हो सकेंगे। खुले स्थानों पर भी कुल क्षमता के 50 फ़ीसदी लोगों को शामिल होने की अनुमति होगी। सैनिटाइजेशन और मास्क का प्रयोग अनिवार्य कर दिया गया है फिलहाल यूपी में किसी भी जिले में 1000 से अधिक केस नहीं है।



Source link