Bulli Bai: दिल्ली पुलिस के हाथ लगी बड़ी कामयाबी, ऐप बनाने वाले को असम से किया गिरफ्तार


बुल्ली बाई ऐप की जांच में जुटी दिल्ली पुलिस के हाथ एक बड़ी कामयाबी लगी है। दिल्ली पुलिस की आईएफएसओ स्पेशल सेल ने दावा किया है, कि उसने विवादित एप मामले में मुख्य आरोपी को असम से गिरफ्तार कर लिया है। इस ऐप पर मुस्लिम महिलाओं को निशाने पर लेकर उनकी बोली लगाई जा रही थी। इस मामले में पहले ही तीन लोग गिरफ्तार हो चुके हैं। दिल्ली पुलिस की इंटेलिजेंस फ्यूज़न एंड स्ट्रैटेजिक ऑपरेशन यूनिट ने बताया कि इनपुट मिलने के बाद उनकी टीम मुख्य साजिशकर्ता को गिरफ्तार करने असम पहुंची थी।

इनपुट मिलने के बाद दिल्ली पुलिस असम गई थी। वहां से इस विवादित ऐप को बनाने को गिरफ्तार किया है। आरोपी का नाम नीरज बिश्नोई है और उसकी उम्र लगभग 21 साल बताई जा रही है। इस मामले में मुंबई पुलिस पहले ही तीन गिरफ्तारी कर चुकी है। गिरफ्तार हुए आरोपी का नाम मयंक रावल, विशाल कुमार और श्वेता सिंह है। श्वेता सिंह को उत्तराखंड से गिरफ्तार किया गया था उसकी उम्र भी 21 साल ही है। इन तीनों आरोपियों को 10 जनवरी तक पुलिस रिमांड में भेज दिया गया है। जहां पुलिस उनसे पूछताछ कर रही है।

बुल्ली बाई ऐप को गिटहब पर बनाया गया है। यह एक होस्टिंग प्लेटफार्म है। यहाँ पर ओपन सोर्स का भरमार रहता है। विवाद तूल पकड़ने के बाद ऐप के यूजर को गिटहब द्वारा ब्लॉक कर दिया गया है। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल गिरफ्तार किए मुख्य आरोपी को लेकर 4 बजे तक दिल्ली एयरपोर्ट पहुंचेगी। जिसके बाद इस मामले में ज्यादा जानकारी मिलने की संभावना है।



Source link