ऑडियो-विजुअल से छात्र सीखेंगे जर्मन, फ्रेंच सहित और भी कई भाषाएं – News18

रजनीश यादव/प्रयागराज: बढ़ते वैश्वीकरण के दौर में भाषा बहुत मायने रखता है. भाषाई संचार की वजह से ही लोग एक दूसरे को जान और समझ पाते हैं. साथ ही व्यापार में भी इन क्षेत्रीयव अंतराष्ट्रीय भाषाओं का भी काफी महत्व होता है. इन्हीं सब चीजों को देखते हुए प्रोफेसर राजेंद्र सिंह रज्जू भैया विश्वविद्यालय को अत्यधिक भाषाओं की प्रयोगशाला को तैयार किया. जिसमें इस विश्वविद्यालय में पढ़ने वाले छात्र-छात्राओं को लैंग्वेज लैब में ऑडियो वीडियो विजुअल के माध्यम से देश दुनिया की कई भाषाओं सहित जर्मन फ्रेंच रूस मंडारिन जैसी दुनिया की महत्वपूर्ण भाषण को आसानी से सीखने का मौका मिलेगा.

इस राज्य विश्वविद्यालय में 5 करोड रुपए की लागत से आईटी सेंटर डेवलप किया गया है .जिसमें अत्यधिक लैंग्वेज लैब, ई लाइब्रेरी, सर्वर रूम, ऑनलाइन लेक्चर रूम की सुविधा है. लैंग्वेज लैब छात्रों को उनकी रुचि के आधार पर देश-विदेश की विभिन्न भाषाओं को सिखाने में न सिर्फ मददगार होगा बल्कि मूल भाषा कौशल को भी विकसित करेगा. कंप्यूटर कृत इस माहौल में छात्र-छात्रा ऑडियो विजुअल माध्यम से भाषा को लिखे और सीख सकते हैं.

लाइव अत्याधुनिक उपकरणों से लैस
विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर अखिलेश कुमार सिंह नहीं बताया कि या लाइव अत्याधुनिक उपकरणों से लैस है. जिसमें भाषा प्रयोगशाला छात्रों में उसे भाषा के प्रति आत्मविश्वास पैदा करेगा जिसे वह बोलना और सिखाना चाहते हैं. पिया लाइव उनके जीवन में दुनिया में भ्रमण करने के लिए भी काफी सहायक होगा जब वह इस लैब से उसे देश की भाषा को सीख कर निकलेंगे.

अन्य सुविधा से जुड़ी लाइब्रेरी
रज्जू भैया विश्वविद्यालय की यह ई लाइब्रेरी सूचना और पुस्तकालय नेटवर्क से जुड़ा होगा. यहां शोधार्थियों के साथ शिक्षक भी जाने-माने जनरल का शोध पत्रिकाओं का लाभ उठा रहे हैं .इसके अलावा विश्वविद्यालय में संचालित हो रहे परास्नातक में पढ़ने वाले छात्रों के लिए इस तरह के लैब की जरूरत थी. अब एक ही आईटी सेंटर में विश्वविद्यालय में पढ़ने वाले सभी छात्र अपने जरूरत के अनुसार सारे कंटेंट एक साथ पा सकेंगे.

Tags: Allahabad news, Education, Local18, Uttar pradesh news

Source : hindi.news18.com