प्रयागराज के BSA और BEO को राष्ट्रीय पुरस्कार, इस इनोवेशन के लिए मिला सम्मान – News18

प्रयागराज. प्रयागराज जिले के बेसिक शिक्षा अधिकारी प्रवीण कुमार तिवारी को परिषदीय विद्यालयों में नवाचार के लिए राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित किया गया है. राजधानी दिल्ली में केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने उन्हें पुरस्कार से नवाजा है. इस मौके पर प्रयागराज जिले में ही तैनात खंड शिक्षा अधिकारी कौड़िहार ओम प्रकाश मिश्रा भी पुरस्कृत किए गए हैं. प्रवीण कुमार तिवारी को राष्ट्रीय शैक्षिक योजना एवं प्रशासन संस्थान नई दिल्ली (NIEPA) द्वारा बेसिक शिक्षा में नवाचार के लिए सम्मानित किया गया है.

बेसिक शिक्षा अधिकारी प्रवीण कुमार तिवारी ने अपने व्यक्तिगत प्रयासों से जिले के सभी परिषदीय विद्यालयों में पब्लिक अनाउंसमेंट सिस्टम की सुविधा उपलब्ध कराई है. जिससे विद्यालयों में आकर्षक प्रार्थना सभा और सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन सुनिश्चित किया गया है. इस बदलाव के चलते बच्चों में समय से विद्यालय आने में उपस्थिति बढ़ी है. इस प्रयास से छात्र संख्या में वृद्धि, स्थानीय समुदाय की सामुदायिक सहभागिता भी सुनिश्चित हुई है.

बीएसए और खंड शिक्षा अधिकारी को मिला सम्मान से शिक्षकों और कर्मचारियों में खुशी की लहर है. मिड डे मील समन्वयक राजीव तिवारी के मुताबिक राष्ट्रीय पुरस्कार लेकर प्रयागराज वापस लौटने पर विभाग की ओर से बीएसए प्रवीण कुमार तिवारी और खंड शिक्षा अधिकारी ओम प्रकाश मिश्र को सम्मानित किए जाने की भी तैयारी की जा रही है.

पुरातन छात्र परिषद का किया गठन

बीएसए प्रवीण कुमार तिवारी ने परिषदीय स्कूलों में पुरातन छात्र परिषद का भी गठन किया है. इसके जरिए पुरा छात्रों को स्कूलों से जोड़ने की मुहिम चलाई गई है. जिसके भी सकारात्मक नतीजे सामने आए हैं. इसकी शुरुआत उन्होंने वर्ष 2020 में जौनपुर में बीएसए रहते हुए की थी. संगम नगरी प्रयागराज में भी उन्होंने 2853 स्कूलों में पुरातन छात्र परिषद का गठन कराया है.

खंड शिक्षा अधिकारी ने ऐसे बढ़ाया बच्चों का ठहराव

खंड शिक्षा अधिकारी ओमप्रकाश मिश्र के योगदान की बात करें तो उन्होंने स्कूलों में कक्षा तीन से 8 तक छात्र हस्ताक्षर पंजिका की व्यवस्था लागू कराई है. जिससे कक्षा में बच्चों का ठहराव बढ़ा है और बच्चों में आत्मविश्वास जगाने में मदद मिली है. सितंबर 2021 से शुरू की गई पहल से कौड़िहार के 214 स्कूलों के 26488 छात्र-छात्राएं इससे जुड़े हैं.

ये भी पढ़ें 

JEE Mains 2024 : बिना कोचिंग के कैसे पास करें जेईई मेन्स ? ये पांच टिप्स दिलाएंगे सफलता

इस IIT के स्टूडेंट को मिला सीजन का सबसे बड़ा पैकेज, अमेरिकी कंपनी ने ऑफर की 2.15 करोड़ सालाना सैलरी

Tags: Allahabad news, Education news

Source : hindi.news18.com