क्रिकेट का सबसे मुश्किल टेस्ट, 146 साल में 6 बैटर ही कर सके पास, भारतीय दिग्गज भी लिस्ट में – News18

नई दिल्ली. टेस्ट क्रिकेट में सबसे मुश्किल काम अगर चौथी पारी में बल्लेबाजी को कहा जाए तो गलत नहीं होगा. यही कारण है कि चौथी पारी में शतक बनाने वाले बल्लेबाज ज्यादा नहीं मिलते. और अगर बात दोहरा शतक लगाने की हो तो सिर्फ 6 बैटर ही ऐसे हैं, जो यह कमाल कर सके हैं. कह सकते हैं कि चौथी पारी में दोहरा शतक लगाना किसी भी बैटर के लिए सबसे कठिन टेस्ट होता  है. भारतीय क्रिकेटप्रेमी इस बात पर गर्व कर सकते हैं कि इन छह नामों में एक भारत से भी है. भारतीय टीम की शान रहे सुनील गावस्कर ने 1979 में इंग्लैंड के खिलाफ उसी की धरती पर चौथी पारी में दोहरा शतक बनाया था. गावस्कर उस वक्त यह उपलब्धि हासिल करने वाले दुनिया के तीसरे क्रिकेटर थे. गावस्कर के बाद तीन क्रिकेटर ही ऐसे हुए हैं, जिन्होंने चौथी पारी में दोहरा शतक लगाया है.

टेस्ट मैच की चौथी पारी में दोहरा शतक लगाने का सबसे ताजा मामला 2021 में देखने को मिला था. तब वेस्टइंडीज के काइल मेयर्स ने बांग्लादेश के खिलाफ चटगांव टेस्ट में 210 रन की नाबाद पारी खेली थी. काइल मेयर्स की इस शानदार पारी की बदौलत वेस्टइंडीज ने 395 रन का लक्ष्य 3 विकेट बाकी रहते हासिल कर लिया था.

साल 2002 में नाथन एस्टल की 222 रन की पारी को भुला पाना भी संभव नहीं है, जो उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ चौथी पारी में खेली थी. इंग्लैंड ने इस मैच में न्यूजीलैंड को जीत के लिए 550 रन का लक्ष्य दिया. जवाब में न्यूजीलैंड के लिए नाथन एस्टल ने ऐतिहासिक पारी खेली. उन्होंने चौथी पारी में 168 गेंद पर 222 रन बनाए और आउट होने वाले आखिरी बैटर रहे. उनकी इस पारी की बदौलत न्यूजीलैंड 93.3 ओवर में ही 451 रन बना दिए थे.

वेस्टइंडीज के जॉर्ज हैडली चौथी पारी में दोहरा शतक लगाने वाले दुनिया के पहले बैटर थे. उन्होंने 1930 में इंग्लैंड के खिलाफ 223 रन बनाए थे. इंग्लैंड के जॉन एड्रिक और वेस्टइंडीज के गॉर्डन ग्रीनिज भी यह उपलब्धि हासिल कर चुके हैं. जॉन एड्रिक ने 1939 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ डरबन टेस्ट की चौथी पारी में 219 रन बनाए थे. गॉर्डन ग्रीनिज ने 1984 में इंग्लैंड के खिलाफ लॉर्ड्स टेस्ट में 214 रन की नाबाद पारी खेली थी.

दिलचस्प बात यह है कि चौथी पारी में दोहरा शतक बनाने वाले छह में से तीन बैटर एक ही टीम वेस्टइंडीज के हैं. जबकि 6 में से 4 बार यह कारनामा एक ही टीम इंग्लैंड के खिलाफ हुआ है. इन छह बैटर्स में दो ही ऐसे हैं, जिन्होंने चौथी पारी में दोहरा शतक लगाया और अंत तक आउट भी नहीं हुए. ये दो बैटर्स वेस्टइंडीज के गॉर्डन ग्रीनिज और काइल मेयर्स हैं.

Tags: Cricket Records, Number Game, Sunil gavaskar

Source : hindi.news18.com