गूगल से 12 हजार कर्मचारियों की छंटनी पर अब क्या बोले सुंदर पिचाई? – News18

नई दिल्ली. करीब एक साल पहले दुनिया की दिग्गज टेक कंपनी गूगल (Google) ने 12 हजार कर्मचारियों को नौकरी से निकाल दिया था. यह कंपनी के इतिहास में अब तक की सबसे बड़ी छंटनी थी. छंटनी की घोषणा के लगभग एक साल बाद अल्फाबेट और गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई (Sundar Pichai) ने कहा है कि प्रभावित कर्मचारियों को सूचित करने का तरीका ‘सही नहीं था’.

इनसाइडर की रिपोर्ट के मुताबिक, मंगलवार को हुई सर्वदलीय बैठक में पिचाई से इतने सारे कर्मचारियों को नौकरी से निकालने के फैसले के बारे में पूछा गया. एक कर्मचारी ने पिचाई से पूछा, “लगभग एक साल हो गया है जब हमने अपने वर्कफोर्स को कम करने का कठिन फैसला लिया था. इस फैसले का हमारे ग्रोथ, पीएंडएल और मनोबल पर क्या प्रभाव पड़ा?” जवाब में सीईओ ने कहा कि छंटनी का “मनोबल पर स्पष्ट रूप से बड़ा प्रभाव पड़ा. यह गूगलजीस्ट में टिप्पणियों और फीडबैक में दिखता है”.

गूगल में 25 सालों में ऐसा क्षण नहीं देखा
पिचाई ने कहा, “किसी भी कंपनी के लिए इससे गुजरना मुश्किल है. गूगल में हमने वास्तव में 25 सालों में ऐसा क्षण नहीं देखा है”. उन्होंने कहा, “यह स्पष्ट हो गया है कि अगर हमने कार्रवाई नहीं की होती, तो यह भविष्य में एक और भी बुरा निर्णय होता. यह कंपनी के लिए एक बड़ा संकट होता. मुझे लगता है कि दुनिया में बड़े बदलाव वाले इस तरह के एक साल में क्षेत्रों में निवेश करने की क्षमता पैदा करना बहुत मुश्किल हो जाता.”

कंपनी ने छंटनी को अच्छी तरह से नहीं संभाला
न्यूज एजेंसी आईएएनएस के मुताबिक, अधिकारियों से यह भी पूछा गया कि क्या उनके पास इस बारे में कोई विचार है कि छंटनी को कैसे संभाला जाए? पिचाई ने स्वीकार किया कि कंपनी ने इसे उतनी अच्छी तरह से नहीं संभाला जैसे करना चाहिए था.

‘प्रभावित कर्मचारियों को एक ही समय में सूचित करना अच्छा विचार नहीं’
रिपोर्ट में उल्लेख किया गया है कि पिचाई ने विशेष रूप से कहा कि समय क्षेत्र की परवाह किए बिना सभी संबंधित कर्मचारियों को एक ही समय में सूचित करना एक अच्छा विचार नहीं था. उन्होंने कहा, “स्पष्ट रूप से ऐसा करने का यह सही तरीका नहीं है. मुझे लगता है कि यह कुछ ऐसा है जिसे हम निश्चित रूप से अलग तरीके से कर सकते थे.” उन्होंने कहा कि नौकरी से निकाले गए कर्मचारियों के वर्क अकाउंट तक एक्सेस को तुरंत हटाना “एक बहुत ही कठिन फैसला” था.

Tags: Google, Google CEO Sundar Pichai, Sundar Pichai

Source : hindi.news18.com