राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा के लिए उड़ीसा के दो युवा कर रहे ये काम, आप भी जानें – News18

बिट्टू सिंह/सरगुजा : राम भक्त ले चला रे राम की निशानी, ये लाइन को ठीक चरितार्थ कर रहे हैं उड़ीसा के टिटलागढ़ जिले के दो युवा राम भक्त, इन दोनों युवा के नाम शुभम और पिंटू हैं. यह दोनों युवा अपने राज्य उड़ीसा से 19 नवंबर को अयोध्या के लिए पदयात्रा करने निकले है. इनका लक्ष्य है कि 22 जनवरी को होने वाला राम लला की प्राण प्रतिष्ठा में शामिल होकर जीवन के सबसे बढ़िया पुण्य का काम कर सके.

शुभम ने बताया कि रास्ते में राम भक्तों की काफी सहयोग और आर्शीवाद मिल रहा है. राम की भक्ति में पद यात्रा कर रहे 27वें दिन छत्तीसगढ़ के सूरजपुर जिले के जरही पहुंचे. दोनों युवाओं का RSS व अन्य हिंदू संगठनों के लोगों ने स्वागत किया.

शुभम ने बताई पैदल यात्रा करने की वजह
राम की भक्ति में निकले शुभम ने बताया कि भगवान राम के प्राण प्रतिष्ठा 22 जनवरी को होना है. ऐसी जानकारी जैसी मिली, हम दोनों ने सोचा उनकी दर्शन कर लें. जीवन में कुछ अच्छा कार्य करना भी बहुत जरूरी होता है. जीवन मिला है इसलिए भक्ति के मार्ग पर चलना चाहिए.

जगह -जगह हिंदू संगठन कर रहे मदद
पैदल यात्रा पर निकले शुभम कहते हैं कि जगह-जगह हिंदू संगठनों का खूब सहयोग मिल रहा है. रात्रि में रुकने का व्यवस्था भी संगठन के लोग ही करते हैं. दोनों युवाओं का कहना है कि अयोध्या में भगवान राम के प्राण प्रतिष्ठा 22 जनवरी को होना है, इसलिए प्रयास रहेगा कि उससे जल्द पहुंचे. जिससे की प्राण प्रतिष्ठा में दौरान कुछ काम करने का भी सौभाग्य मिल सके. ऐसे में जीवन सबसे पुण्य की भागीदारी सुनिश्चित कर सकें .

स्थानीय लोगों ने भी खूब सराहा
वहीं इन दोनों युवकों की भक्ति देख लोगों ने खूब सराहना कर रहे हैं. स्थानीय लोगों ने कहा आज के दौर जहां युवा मंदिर जाने के लिए सोचते नहीं है, वैसे समय उड़ीसा के यह दो करीब 1100 किमी की पैदल यात्रा कर अयोध्या में होने वाला हिंदुओं का अराध्य भगवान राम के प्राण प्रतिष्ठा में शामिल होने जा रहे हैं.

Tags: Ambikapur News, Chhattisgarh news, Local18, Raipur news

Source : hindi.news18.com