जब एक ही मंडप में पहुंच गए हिंदू मुस्लिम दूल्हा-दुल्हन, देखने लग गई भीड़ – News18

गोपालगंज. बिहार के गोपालगंज जिले में अनोखा सामूहिक विवाह सम्मेलन आयोजित किया गया. इसमें कुल 21 जोड़ों की शादी कराई गई. खास बात यह रही कि एक ही मंडप के नीचे यहां एक तरफ पंडित मंत्रोच्चार कर रहे थे, तो दूसरी तरफ मौलाना कुबूलनामा पढ़वा रहे थे. इस दोनों धर्मों के सम्मेलन में बड़ी संख्या में लोग पहुंचे और आस-पास के कई गांव में इस काम की जमकर तारीफ हो रही है.

गोपालगंज में बुधवार को बाबा भूतनाथ शांति सेवा संस्थान द्वारा लामीचौर में  सामुहिक विवाह कार्यक्रम का आयोजन किया गया. इसमें वैदिक मंत्रोच्चार और कुबूलनामा के बीच 21 जोड़ों की शादी संपन्न कराई गई. जिसमें चार का निकाह कराया गया. जहां गोपालगंज और सीवान जिलों के आलावा यूपी के देवरिया और कुशीनगर तथा गुजरात के कक्ष जिलों से शादी के बंधन में बंधने के लिये वर-वधु परिजनों के साथ पहुंचे थे.

कृष्ण जन्मभूमि के पक्षकार जा रहे थे हाईकोर्ट, पाक से आए कॉल पर मिली धमकी, पुलिस महकमे में मच गया हडकंप

एक तरफ मंत्रोच्चार दूसरी तरफ कलमा
इस कार्यक्रम की सबसे अहम बात यह रही कि पहली बार ऐसा हुआ कि एक ही मंडप में एक तरफ विवाह की वेदी सजी थी, तो दूसरी तरफ निकाह का कुबूलनामा हो रहा था. पंडित वैदिक मंत्र पढ़े जा रहे थे, तो मौलाना कलमा पढ़ रहे थे. शादी में शामिल होने आई महिलाओं ने जहां मंगल गीत गाकर पारंपरिक ढंग से विवाह को संपन्न कराया. साथ ही गाजे-बाजे के साथ आई बारात का स्वागत किया गया. वहीं, सामुहिक विवाह सम्मेलन में वर-वधू पक्ष काफी खुश नजर आए.

बना हुआ चर्चा का विषय
इस अनोखे सम्मेलन में कई गांव के लोगों की भीड़ जुटी. यह कार्यक्रम सामाजिक एकता की मिसाल पेश कर रहा है. ऐसे में यह कार्यक्रम लोगों के बीच चर्चा का विषय बना हुआ है. स्थानीय मुखिया ने कहा कि संस्थान के इस कार्यक्रम के जरिए कई गरीब परिवार के दुल्हा-दुल्हन की शादी हुई, साथ ही दोनों धर्मों के रीति-रिवाज से शादियां सम्पन्न कराई गई.

Tags: Bizarre news, Bizarre story, Gopalganj news, Unique wedding

Source : hindi.news18.com