10 मैच 690 रन, 32 साल के बैटर ने नहीं छोड़ी टीम इंडिया में वापसी की आस, कहा- अगर ऐसा नहीं होता तो… – News18

हाइलाइट्स

करुण नायर ने फाइनल में दूसरी पारी में 74 रन बनाए
रणजी ट्रॉफी के मौजूदा सीजन में नायर के बल्ले ने ज्यादा रन उगले हैं

नई दिल्ली. विदर्भ को रणजी ट्रॉफी फाइनल में पहुंचाने बल्लेबाज करुण नायर की अहम भूमिका रही जिन्होंने हर बार मौके पर चौका जड़ा. यानी जब जब टीम को उनकी जरूरत महसूस हुई, इस अनुभवी बल्लेबाज ने बेहतरीन पारी खेली. नायर के लिए मौजूदा रणजी सीजन शानदार रहा. वह विदर्भ की ओर से सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज रहे. उन्होंने मुंबई के खिलाफ फाइनल में दूसरी पारी में 74 रन बनाए. नायर पिछले सीजन तक कर्नाटक टीम के हिस्सा थे जिसने 2022-23 सीजन में उन्हें बाहर का रास्ता दिखा दिया था.

कर्नाटक का साथ छुटने के बाद करुण नायर (Karun Nair) एक सीजन घरेलू क्रिकेट से दूर रहे. इसके बाद उन्हें विदर्भ ने मौका दिया. नायर ने विदर्भ (Vidarbha) की ओर से मिले मौके को दोनों हाथों से लपका. टेस्ट में ट्रिपल सेंचुरी जड़ चुके करुण नायर ने डोमेस्टिक सीजन में हर फॉर्मेट में नई टीम के लिए बेहतरीन प्रदर्शन किया. रणजी ट्रॉफी फाइनल में बुधवार को चौथे दिन के खेल के दौरान 220 गेंद में 74 रन की जुझारू पारी खेलने के बाद भावुक हुए नायर ने कहा कि ‘घर में बैठ कर दूसरे खिलाड़ियों को खेलते देखना’ उनके लिए काफी मुश्किल था.

VIDEO: बल्ला छोड़ क्रिकेटर्स मैदान में पढ़ने लगे नमाज… अंपायर ने रुकवाया मैच, पानी पीकर और खजूर खाकर खोला रोजा

मस्जिद में बीता बचपन, लंबे-लंबे छक्कों से बनाई पहचान, बेरहम ऑलराउंडर की राजनीति में हुई एंट्री, करोड़ों में है नेटवर्थ

नायर मौजूदा सत्र में दो बार की चैम्पियन टीम के लिए सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी है। उन्होंने दिन का खेल खत्म होने के बाद कहा, ‘मुझे लगता है कि मैंने काफी अच्छी बल्लेबाजी की है। मैंने सभी प्रारूपों में रन बनाए हैं। इस सत्र में काउंटी चैंपियनशिप में भी कुछ मैच खेलकर काफी रन बनाए हैं।’’

‘काउंटी में रन बनाने से बढ़ा आत्मविश्वास’
करुण नायर ने कहा , ‘जब मैंने वहां (काउंटी क्रिकेट) रन बनना शुरू किया तो इससे मेरा आत्मविश्वास काफी बढ़ा. मैंने ओवल मैदान में बल्लेबाजी के लिए मुश्किल परिस्थितियों में 150 रन की पारी खेली थी. इससे से सत्र से पहले मेरा आत्मविश्वास काफी बढ़ा. मैं एक सत्र तक खेल से दूर रहा. मुझे नहीं पता इसे कैसे कहना चाहिए लेकिन घर में बैठ कर दूसरों को खेलते देखना कठिन था.’

‘मैं फिर से टीम इंडिया के लिए खेल सकता हूं
करुण नायर टेस्ट क्रिकेट में तिहरा शतक जड़ने वाले वीरेंद्र सहवाग के बाद दूसरे भारतीय हैं. रणजी में शानदार प्रदर्शन के बाद करुण टीम इंडिया में वापसी की उम्मीद लगाए बैठे हैं. 32 साल के करुण नायर ने कहा, ‘ शत प्रतिशत, मैं वापसी कर सकता हूं. अगर ऐसा नहीं होता तो मैं इतनी मेहनत कर के घरेलू क्रिकेट में वापसी नहीं करता. मुझे लगता है कि मैं फिर से भारत के लिए खेल सकता हूं. यह अपने प्रदर्शन में निरंतरता बनाये रखने के बारे में है.’

विदर्भ को आखिरी दिन चाहिए 290 रन
रणजी ट्रॉफी फाइनल में विदर्भ ने जीत के लिए 538 रन का पीछा करते हुए 5 विकेट पर 248 रन बना लिए हैं. उसके सामने और 290 रन बनाने का पहाड़ जैसा लक्ष्य है लेकिन करुण नायर को मैच के आखिरी दिन चमत्कार की उम्मीद है.

Tags: Karun Nair, Ranji Trophy

Source : hindi.news18.com