Panchang: होलाष्टक प्रारंभ, शुभ कार्य बंद, देखें मुहूर्त, भद्रा, राहुकाल – News18

हाइलाइट्स

आज से कोई भी शुभ कार्य नहीं होगा क्योंकि होलाष्टक को अशुभ माना जाता है.
फाल्गुन शुक्ल अष्टमी से फाल्गुन पूर्णिमा तक होलाष्टक होता है.
रविवार को प्रात:काल में स्नान करके सूर्य देव की पूजा करें.

आज का पंचांग 17 मार्च 2024: आज से होलाष्टक का प्रारंभ हुआ है, जो होलिका दहन तक रहेगा. आज फाल्गुन माह के शुक्ल पक्ष की अष्टमी तिथि, मृगशिरा नक्षत्र, आयुष्मान योग, विष्टि करण, पश्चिम का दिशाशूल और रविवार दिन है. आज से कोई भी शुभ कार्य नहीं होगा क्योंकि होलाष्टक को अशुभ माना जाता है. हिंदू कैलेंडर के अनुसार, फाल्गुन शुक्ल अष्टमी से फाल्गुन पूर्णिमा तक होलाष्टक होता है. इस साल 24 मार्च को होलिका दहन के साथ ही होलाष्टक का समापन होगा. इस समय खरमास भी चल रहा है और होलाष्टक भी है. ऐसे में विवाह, मुंडन, गृह प्रवेश, नई दुकान का उद्घाटन, मकान, वाहन आदि की खरीदारी नहीं करते हैं. आज शाम से रवि योग बन रहा है.

रविवार को भगवान भास्कर की पूजा करना शुभ फलदायी माना जाता है. रविवार को प्रात:काल में स्नान करके सूर्य देव की पूजा करें. उनको जल, लाल फूल, लाल चंदन आदि से अर्घ्य दें. उस दौरान सूर्य मंत्र का जाप करें. फिर चाहें तो गायत्री मंत्र का भी जाप कर सकते हैं. सूर्य देव की कृपा से आपका भाग्य मजबूत होगा. कार्य क्षेत्र में सफलता मिलेगी और पिता का सहयोग प्राप्त होगा. पिता के सा​थ संबंध मजबूत होगा. सूर्य चालीसा और रविवार व्रत कथा का पाठ करना अच्छा रहेगा. पूजा के बाद आप गेहूं, लाल वस्त्र, लाल चंदन, गुड़, तांबा आदि का दान कर सकते हैं. आज के दिन स्वर्ग की भद्रा है, लेकिन उसका प्रभाव पृथ्वी लोक पर नहीं होगा. वैदिक पंचांग से जानते हैं आज का शुभ मुहूर्त, रवि योग, भद्रा, सूर्योदय, सूर्यास्त, चंद्रोदय, चंद्रास्त, दिशाशूल, राहुकाल आदि.

ये भी पढ़ें: होली बाद 5 राशिवालों की बदलेगी किस्मत! बुध कराएगा मालामाल, मिल सकता है धन, वाहन, विदेश में नौकरी

आज का पंचांग, 17 मार्च 2024
आज की तिथि- अष्टमी – 09:52 पीएम तक, फिर नवमी
आज का नक्षत्र- मृगशिरा – 04:47 पीएम तक, उसके बाद से आर्द्रा
आज का करण- विष्टि – 09:40 एएम तक, फिर बव – 09:52 पीएम तक
आज का पक्ष- शुक्ल
आज का योग- आयुष्मान् – 05:06 पीएम तक, फिर सौभाग्य योग
आज का दिन- रविवार
चंद्र राशि- मिथुन

सूर्योदय-सूर्यास्त और चंद्रोदय-चंद्रास्त का समय
सूर्योदय- 06:28 एएम
सूर्यास्त- 06:31 पीएम
चन्द्रोदय- 11:12 एएम
चन्द्रास्त- 02:13 एएम, 18 मार्च
अभिजीत मुहूर्त- 12:05 पीएम से 12:54 पीएम तक
ब्रह्म मुहूर्त- 04:52 एएम से 05:40 एएम तक

ये भी पढ़ें: होली से 8 दिन पहले लग जाएगा होलाष्टक, इन 8 दिनों में किन कार्यों पर लग जाएगी रोक? जानें कारण

आज का शुभ योग
रवि योग: 04:47 पीएम से 09:05 पीएम तक

अशुभ समय
राहुकाल – 05:00 पीएम से 06:31 पीएम तक
गुलिक काल – 03:30 पीएम से 05:00 पीएम तक
दिशाशूल – पश्चिम
भद्रा: 06:28 एएम से 09:40 एएम तक
भद्रा का वास: स्वर्ग में

शिववास
श्मशान में – 09:52 पीएम तक, उसके बाद माता गौरी के साथ

Tags: Astrology, Dharma Aastha, Religion

Source : hindi.news18.com