'उसे पूरी जिंदगी पछताना होगा…' कश्मीर में आतंकवाद के खात्मे पर क्या बोले DGP – News18

जम्मू. जम्मू-कश्मीर के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) आर.आर. स्वैन ने रविवार को कहा कि केंद्र शासित प्रदेश में आगामी लोकसभा चुनाव के दौरान सभी को सुरक्षित माहौल और समान अवसर प्रदान किया जाएगा. केंद्र शासित प्रदेश के शीर्ष पुलिस अधिकारी ने कहा कि सुरक्षा एजेंसियां जम्मू-कश्मीर से आतंकवाद को पूरी तरह से खत्म करने से अब ज्यादा दूर नहीं हैं. उन्होंने सुरंगों के माध्यम से आतंकवादियों की घुसपैठ में मदद करने या ड्रोन से गिराए गए हथियारों को उठाने में मदद करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने का संकल्प दोहराया.

जम्मू-कश्मीर में लोकसभा चुनाव पांच चरणों में होंगे. इसके मुताबिक 19 अप्रैल को उधमपुर में, 26 अप्रैल को जम्मू, सात मई को अनंतनाग-राजौरी में, 13 मई को श्रीनगर में और 20 मई को बारामूला में मतदान होगा. मतगणना चार जून को होगी.

स्वैन ने कहा, “चुनाव के दौरान सुरक्षा एक महत्वपूर्ण पहलू है. निर्वाचन आयोग ने सख्त निर्देश जारी किए हैं कि चुनाव के दौरान मतदाताओं, उम्मीदवारों और राजनीतिक कार्यकर्ताओं को एक सुरक्षित माहौल और समान अवसर प्रदान किया जाना चाहिए.”

डोडा जिले में आयोजित जनता दरबार से इतर संवाददाताओं से बातचीत में उन्होंने कहा, “हम उन केंद्रीय बलों की तैनाती के लिए केंद्र के साथ बातचीत कर रहे हैं जो यहां आएंगे, साथ ही जो पहले से ही (जम्मू और कश्मीर में) मौजूद हैं ताकि उनका इष्टतम उपयोग हो सके.”

जम्मू-कश्मीर से आतंकवाद के खात्मे की समयसीमा के बारे में पूछे जाने पर डीजीपी ने कहा, “हम इससे ज्यादा दूर नहीं हैं.” उन्होंने कहा, ‘‘(आतंकवाद को खत्म करने की) रणनीति और कार्ययोजना स्पष्ट है. हम इस कार्ययोजना से पीछे नहीं हट रहे हैं. हम इसका ईमानदारी से पालन कर रहे हैं और जिससे सेनाओं को (उनके लक्ष्य हासिल करने में) बहुत फायदा हो रहा है.”

सीमा पार से आतंकवादियों और हथियारों को भेजने के लिए ड्रोन और भूमिगत सुरंगों के इस्तेमाल पर उन्होंने दोहराया कि जो कोई भी आतंकवादियों की सहायता करते हुए पाया जाएगा उसे जीवन भर पछताना होगा.

Tags: Jammu kashmir, Loksabha Election 2024, Loksabha Elections, Terrorism

Source : hindi.news18.com