इस शख्स ने शौक के चलते एक बीघे में लगा दिए 65 किस्म के आम के पौधे – News18

सुशील सिंह/मऊ: कहते हैं शौक बड़ी चीज होती है. इस कहावत को चरितार्थ कर रहे हैं मऊ जिले के औद्योगिक क्षेत्र के रहने वाले अनमोल राय. अनमोल राय एक प्रकृति प्रेमी हैं. इन्होंने शौक के चलते आम के पेड़ों की बागवानी लगाई हुई है.आम खाने और आम लगाने के शौकीन अनमोल राय के एक बीघे में फैले हुए बगीचे में आमों की कुल 65 किस्में लगी हुईं हैं, जिसमें से 10 आम अंतर्राष्ट्रीय किस्मों के हैं.

अनमोल राय से बात करने पर उन्होंने बताया कि उन्हें आम का पेड़ लगाने का बचपन से ही शौक रहा है. उनके बगीचे में आम के 65 किस्मों के 70 पेड़ लगे हुए हैं. उन्होंने बताया कि आमों की इन किस्मों के लिए वो पूरे भारत में घूमते हैं. उन्होंने देश की उन टॉप यूनिवर्सिटीज से आमों का कलेक्शन किया है, जो आम पर शोध करतीं हैं. उन्होंने बताया कि उनके बगीचे में लगे हुए पौधों में से 10 आम के पेड़ों को वो पूसा यूनिवर्सिटी से ले कर आए हैं. उनका जुनून देखिए कि आम के इन 10 पेड़ों को प्राप्त करने के लिए उन्होंने दिल्ली की 5 बार यात्रा की, क्योंकि पूसा वाले एक बार में सिर्फ 2 ही आम के पेड़ देते हैं.

आम की खेती में है अच्छा मुनाफा 
इसके अलावा वह बस्ती में स्थित इंडो इसराइल, कोंकण से आर्का पुनीत और अर्का अनमोल, साबोर यूनिवर्सिटी बिहार से पौधे लेकर आए. अनमोल बताते हैं कि यदि कमर्शियल बेसिस पर आम की खेती की जाए तो इससे किसान 3 से 4 लाख रुपया एक सीजन में कमा सकते हैं. उन्होंने बताया कि यदि आम की सघन खेती की जाए तो इससे ज्यादा लाभ मिलता है. वहीं आम की अच्छी किस्मों की यदि बात की जाए तो इसके लिए किसान भाई अंबिका, रोनिका या मल्लिका की सघन खेती करके अच्छा लाभ ले सकते हैं. आम की ये सारी किस्में हर साल फल देती हैं. इनकी भंडारण क्षमता भी काफी अच्छी होती है. जबकि लंगड़ा, दशहरी, चौसा आम एक साल का गैप दे कर फलते हैं. इसलिए आमों की उपरोक्त किस्में आम की खेती के लिए अच्छी हैं. अगर आप भी आम खाने और आम के पेड़ लगाने के शौकीन हैं तो अनमोल राय से प्रेरणा ले सकते हैं.

Tags: Hindi news, Local18

Source : hindi.news18.com