होलिका दहन के दिन गलती से भी न करें ये काम, वरना हो जाएगी बड़ी परेशानी – News18

गुलशन कश्यप/जमुई. होली से एक दिन पहले फाल्गुन मास की पूर्णिमा के दिन होलिका जलाई जाती है. इस साल होलिका दहन 24 मार्च को है. होलिका दहन के दौरान लोग लकड़ियां इकट्ठा करते हैं, उसके बाद विधि- विधान से पूजा पाठ करने के बाद होलिका दहन करते है. होलिका दहन को लेकर कई सारी बातें कही जाती है. कहा जाता है कि जिस जगह होलिका दहन किया जाता है, वह जगह शमशान के समान होती है. होलिका दहन के पीछे कई रहस्य छीपे है. कुछ लोग इसे ज्योतिष कारणों से भी देखते हैं, तो कुछ लोग इसे और भी विभिन्न कारणों से खास मानते हैं. लेकिन क्या आप जानते हैं कि होलिका दहन के दिन लोगों को कुछ कार्यों को करने की मनाही होती है. ज्योतिषाचार्य पंडित मनोहर आचार्य बताते हैं कि होलिका दहन के दिन लोगों को भूलकर भी कुछ काम नहीं करने चाहिए. ऐसा करना उनके लिए नुकसानदेय हो सकता है.

ज्योतिषाचार्य पंडित मनोहर आचार्य बताते हैं कि होलिका दहन के दिन लोगों को भूलकर भी कुछ काम नहीं करने चाहिए. उन्होंने बताया कि यह सारे काम करने से उनके घर में लक्ष्मी का आगमन समाप्त हो सकता है. उनके जीवन में संकट आ सकते हैं. पारिवारिक उलझनें बढ़ सकती हैं. मानसिक परेशानी से गुजरना पड़ सकता है. इतना ही नहीं लोगों के जीवन में शारीरिक कष्ट से लेकर बीमारी इत्यादि तक का भी आगमन हो सकता है. तो आप भी जान लें कि होलिका दहन के दिन कौन-कौन सी चीज खास कर नहीं करनी चाहिए.

होलिका दहन के दिन नहीं करें यह पांच काम
ज्योतिषाचार्य ने बताया कि होलिका दहन के दिन किसी को भी कीमती सामान या पैसा उधार नहीं देना चाहिए. ऐसा करना अशुभ माना जाता है और अगर होलिका दहन के दिन आप ऐसा करते हैं तो आपके घर में लक्ष्मी का आगमन रुक सकता है. उन्होंने कहा कि होलिका दहन के दिन कई प्रकार के टोना टोटका करने की भी परंपरा है. ऐसे में होलिका दहन की रात सड़क पर पड़े किसी भी वस्तु को नहीं छूना चाहिए, क्योंकि वह टोटके वाली हो सकती है. होलिका दहन के दिन घर के बाहर किसी के द्वारा दिए गए भोजन या पानी के सेवन से भी बचना चाहिए. उन्होंने बताया कि होलिका दहन के दिन बालों को रुखा और खुला रखने से बचना चाहिए तथा होलिका दहन की रस्म करते वक्त पीले या काले रंग के कपड़े पहनने से भी बचना चाहिए.

Tags: Dharma Aastha, Holika Dahan, Local18

Disclaimer: इस खबर में दी गई जानकारी, राशि-धर्म और शास्त्रों के आधार पर ज्योतिषाचार्य और आचार्यों से बात करके लिखी गई है. किसी भी घटना-दुर्घटना या लाभ-हानि महज संयोग है. ज्योतिषाचार्यों की जानकारी सर्वहित में है. बताई गई किसी भी बात का Local-18 व्यक्तिगत समर्थन नहीं करता है.

Source : hindi.news18.com