Mirzapur News: बिना कोच के यहां पसीना बहा रहे खिलाड़ी, ऐसे कैसे लाएंगे मेडल? – News18

मंगला तिवारी/मिर्जापुर: खेल को बढ़ावा देने के लिए स्थानीय स्तर पर खिलाड़ियों को प्रोत्साहित किया जा रहा है. जिलास्तर पर खिलाड़ियों को स्टेडियम के साथ ही तमाम संसाधन उपलब्ध कराए जा रहे हैं. लेकिन, यूपी के मिर्जापुर में कोच ना होने की वजह से खिलाड़ियों को परेशानी हो रही है. जनपद में आठ खेलों के लिए सुविधाएं उपलब्ध कराई गई हैं. लेकिन, कोच न होने से खिलाड़ियों की प्रैक्टिस प्रभावित हो रही है. सिर्फ, वॉलीवाल और फुटबॉल के कोच जिले में है, जो कि क्रीड़ाधिकारी व उप क्रीड़ाधिकारी हैं.

मिर्जापुर जनपद के भिस्कुरी में एक स्पोर्ट्स स्टेडियम है, जहां शहर के अलावा आसपास के गांवों के खिलाड़ी ट्रेनिंग के लिए आते हैं. यहां स्टेडियम बन जाने के बाद वॉलीबॉल, फुटबॉल, एथलेटिक्स, कुश्ती, पावरलिफ्टिंग, कब्बडी, नेटबाल व वेटलिफ्टिंग आदि खेलों का प्रशिक्षण खिलाड़ियों को दिया जाता है. इन खेलों में कुल 230 खिलाड़ी है. फुटबॉल और वॉलीबॉल के अलावा किसी भी खेल में कोच नहीं है. इसकी वजह से खिलाड़ियों को परेशानी हो रही है.

संविदा पर रखे गए थे कोच
वॉलीबॉल के लिए क्रीड़ाधिकारी भानु प्रसाद व फुटबॉल के लिए उप क्रीड़ाधिकारी अमित कुमार के अलावा सभी कोच संविदा पर रखे गए थे. इसमें नेटबाल विवेक मिश्र, एथलेटिक्स ओमकार नाथ यादव, पावरलिफ्टिंग निधि पटेल, कबड्डी कविंद्र व वेटलिफ्टिंग के कोच अंशकालिक संविदा पर रखे गए थे. 31 जनवरी को उनकी संविदा समाप्त हो गई है. लगभग 45 दिन से बिना कोच के ही खिलाड़ी अभ्यास कर रहे हैं.

इन खेलों में है कुल 230 खिलाड़ी
फुटबॉल में 40 लड़के, वॉलीबॉल में 31 लड़के और तीन लड़कियां, एथलेटिक्स में 35 लड़के और पांच लड़कियां, पावरलिफ्टिंग में 32 लड़के और एक लड़कियां, नेटबाल में 33 लड़के, कुश्ती में 38 लड़के और दो लड़कियां, वेट लिफ्टिंग में 22 लड़के और आठ लड़कियां व कबड्डी में 33 लड़के हैं. खिलाड़ियों के अभ्यास के लिए फरवरी माह में कोच की नियुक्ति के लिए निदेशालय ने रिपोर्ट मांगी थी. लेकिन अभी तक नियुक्ति नहीं हो पाई है.

जनवरी में हुई थी संविदा समाप्त
क्रीड़ाधिकारी भानु प्रसाद ने बताया कि फुटबॉल और वॉलीबॉल के लिए कोच हैं. एक जनपद एक खेल के तहत कछवां में वेटलिफ्टिंग का कैंप चल रहा है. बाकी चार से पांच खेलों के लिए कोच की नियुक्ति प्रक्रियाधीन है. पूरे प्रदेश में प्रक्रिया पूरी नहीं हो पाई है. जल्द ही यहां पर कोच की भर्ती हो जाएगी.

Tags: Local18, Mirzapur news

Source : hindi.news18.com