कोटा में थी बेटी, पापा को आ गया फोन, कहा- हेल्लो पापा इन लोगों ने मेरा… – News18

हाइलाइट्स

कोटा में फर्जी किडनैपिंग केस में पुलिस अब तक छात्रा और उसके साथियों का नहीं लगा पायी पता.
छात्रा ने खुद के अपहरण की रची थी साजिश और पिता से मांगे थे 30 लाख रुपये.

कोटाः कोचिंग सिटी कोटा से छात्रा के अपहरण मामले में पुलिस को अबतक कोई सफलता नहीं मिली है. हालांकि ये अपहरण का मामला पूरी तरह से झूठ है. क्योंकि छात्रा ने ही खुद अपने अपहरण की साजिश रची थी और अपने साथियों के साथ मिलकर पिता से 30 लाख की फिरौती की मांग भी की थी. मामले की शुरुआत में अपहरणकर्ताओं ने छात्रा के हाथ-पांव बंधे हुए तस्वीर भी परिजनों को भेजा था. कोचिंग छात्रा के अपहरण और 30 लाख रुपये की फिरौती मांगने के ड्रामे का मामला सामने आने के बाद पांचवे दिन भी छात्रा और उसके साथियों का कोई पता नहीं चल पाया है.

छात्रा की तलाश में कोटा पुलिस की चार और टीमें इंदौर पहुंची हुई हैं. पुलिस की जांच में खुलासा हुआ है कि छात्रा और उनके साथी ने मिलकर ही अपहरण की साजिश रची थी. एमपी और राजस्थान की पुलिस की टीमें देश के कई इलाकों में छात्रा और उसके दोस्तों की तलाश कर रही है. हालांकि छात्रा के साथ किसी भी तरह का कोई अपराध नहीं हुआ है. छात्रा को विदेश में पढ़ाई करनी थी, जिसके लिए उसने फेक किडनैपिंग की साजिश रची. एसपी ने मीडिया के माध्यम से छात्रा और उसके साथियों से सकुशल घर लौटने की अपील की है. इसके अलावा छात्रा के बारे में सूचना देने वालों को ₹20000 के इनाम देने का भी ऐलान किया गया है.

बता दें कि बीते साल सितंबर में छात्रा के पिता ने कोचिंग सेंटर में एडमिशन करवाकर गए थे. उन्होंने छात्रा को विज्ञान नगर में इलाके में किराए का कमरा दिलवाया था. कथित तौर पर बदमाशों ने छात्रा के पिता को यकीन दिलाने के लिए उसके हाथ-पैर बांधे हुए फोटो उनको भेजे. बेटी की ऐसी हालत देखकर परिजनों के पैरों तले जमीन खिसक गई थी. उसके बाद छात्रा के फोटो सोशल मीडिया पर वायरल होने लगे. इन्हीं फोटो के आधार पर स्वतः संज्ञान लेते हुए पुलिस ने छात्रा की तलाश शुरू कर दी थी. हालांकि जब मामले का खुलासा हुआ तो पता चला कि छात्रा ने खुद री साजिश रची थी.

Tags: Kota Coaching, Kota news

Source : hindi.news18.com