इस खास हाथी-घोड़े से दूर होगा बच्चों में तनाव और नशे से की समस्या… – News18

रोहित भट्ट/ अल्मोड़ा. आजकल के समय में बच्चों पर पढ़ाई का काफी तनाव देखने को मिलता है. जिस वजह से छोटे बच्चे अन्य गतिविधियों में पीछे रह जाते हैं. इसको देखते हुए उत्तराखंड की सांस्कृतिक नगरी अल्मोड़ा में शतरंज की प्रतियोगिता कराई जा रही है, जिससे बच्चों को तनाव मुक्त रखा जा सके और नशे की प्रवृत्ति से भी वे दूर रह सकें. जिला स्तरीय ओपन शतरंज प्रतियोगिता में काफी संख्या में बच्चे भाग ले रहे हैं. गौरतलब है कि शतरंज खेलने से बच्चों के बौद्धिक विकास भी होता है और बच्चों की सोचने की क्षमता भी बढ़ती है. शतरंज की प्रतियोगिता क्वींस चेस एकेडमी एवं विक्टोरिया क्लब अल्मोड़ा के द्वारा आयोजित कराया जा रहा है.

छात्र नमन प्रसाद ने लोकल 18 से कहा कि शतरंज खेलने से काफी फायदा होता है. यह तनावमुक्त रखता है. वहीं इस खेल से जीवन में भी बहुत कुछ सीखने को मिलता है. शतरंज से सकारात्मक सीख लेते हुए हम आगे बढ़ सकते हैं और मुश्किलों को पार कर सकते हैं.

मानसिक तनाव भी होता है दूर
छात्रा वैष्णवी उप्रेती ने लोकल 18 से कहा कि शतरंज खेलने के बहुत सारे फायदे हैं. यह खेल हमारा बौद्धिक विकास करता है और हमें मानसिक तनाव से दूर रखता है. शतरंज खेलने से हमारे सोचने की क्षमता बढ़ती है और हमें पढ़ाई में भी काफी फायदा होता है. उनका मानना है कि शतरंज एक अच्छा गेम है, इसमें आप अपने प्रतिद्वंदी को हराने के लिए पुरजोर कोशिश करते हैं.

शतरंज खेलने से होगा दिमाग का विकास
छात्र सौम्या ने कहा कि शतरंज खेलने के कई लाभ हैं. आप मोबाइल फोन या फिर उसमें उलझे नहीं रहते हैं. आप अपने आप को एक स्थिरता देते हैं, जिससे आप अपने सोचने की क्षमता को भी बढ़ाते हैं. शतरंज खेलने से आप एक कदम आगे की सोचते हैं, क्योंकि शतरंज खेलते समय आप आगे के बारे में सोचते हैं. वैसे ही आप अपने जीवन में भी आसानी से डिसीजन ले सकते हैं.

स्वर्गीय भरत लाल टम्टा की स्मृति में प्रतियोगिता
शतरंज प्रतियोगिता के आयोजक संतोष कुमार ने कहा कि शतरंज की प्रतियोगिता क्वींस चेस एकेडमी एवं विक्टोरिया क्लब अल्मोड़ा के द्वारा स्वर्गीय भरत लाल टम्टा की स्मृति में कराया जा रहा है. इसमें काफी संख्या में बच्चे भाग ले रहे हैं. बच्चों को प्रोत्साहित करने के लिए मेडल और ट्रॉफी देकर सम्मानित किया जाएगा.

Tags: Almora News, Local18, Uttarakhand news

Source : hindi.news18.com