हीरा-मोती नहीं, यहां बनता है शक्कर का हार, वजन सवा किलो, बेचने के लिए… – News18

मोहन ढाकले/बुरहानपुर. आज तक आपने फूलों, मोतियों, सोने-चांदी और हीरों के हार देखे होंगे, लेकिन मध्य प्रदेश के बुरहानपुर में होली पर शक्कर से हार बनाए जाते हैं. इस हार का वजन करीब सवा किलो का होता है. लोग भी इसे खरीदना पसंद करते हैं. होलिका दहन के बाद होली माता के साथ घर के बच्चों को ये हार पहनाए जाते हैं. यहां शक्कर के हार का बाजार भी लगता है, जहां पर एक दर्जन से अधिक दुकानें हैं. महाराष्ट्र के लोग भी यहां पर खरीदी करने के लिए पहुंचते हैं.

शक्कर के हार बेचने वाले दुकानदार महेश गुप्ता ने बताया कि यह 50 साल पुरानी जिले की परंपरा है. यहां पर शक्कर से बड़े-बड़े हर बनाए जाते हैं. हर होली पर इनकी खूब बिक्री होती है. पूजा के बाद हार को परिवार और रिश्तेदारों को बांटा जाता है, ताकि सभी का होली पर्व प्रेम और स्नेह के साथ मने. इकबाल चौक क्षेत्र में एक दर्जन से अधिक शक्कर के हार बेचने के लिए दुकानें लगीं. यहां पर जिले के साथ महाराष्ट्र के लोग भी खरीदी करने आ रहे हैं. रोजाना करीब दो क्विंटल हार की बिक्री हो रही है.

शक्कर से बनाए तीन आइटम
शक्कर से तीन प्रकार के आइटम बनाए जाते हैं, जिसमें सबसे बड़ा शक्कर का हार बनाया जाता है. कंगन बनाए जाते हैं और नारियल बनाया जाता है. लोग इसको होलिका माता की पूजा में इस्तेमाल करते हैं. ₹100 किलो यह हार बिक रहा है. 50 साल से बाजार लग रहा है.

Tags: Holi celebration, Local18, Mp news

Source : hindi.news18.com