'गाजा में तुरंत सीजफायर हो', UNSC ने पहली बार की मांग, US वोटिंग से रहा गायब – News18

संयुक्त राष्ट्र. संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने सोमवार को मुस्लिमों के पवित्र महीने रमजान के दौरान गाजा में तत्काल संघर्षविराम के प्रस्ताव को पारित किया. इजरायल और हमास के बीच संघर्ष के लगभग पांच महीने से अधिक वक्त बीतने के बाद यह प्रस्ताव पारित किया गया है. पंद्रह राष्ट्रों वाली सुरक्षा परिषद ने 10 गैर-स्थायी निर्वाचित सदस्यों द्वारा प्रस्तुत प्रस्ताव को अपनाया. 14 देशों ने प्रस्ताव के पक्ष में मतदान किया, जबकि अमेरिका मतदान में शामिल नहीं हुआ.

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुतारेस ने ‘एक्स’ पर एक पोस्ट में कहा, “सुरक्षा परिषद ने गाजा पर लंबे समय से प्रतीक्षित एक प्रस्ताव को मंजूरी दे दी, जिसमें तत्काल युद्धविराम और सभी बंधकों की तत्काल व बिना शर्त रिहाई की मांग की गई है.” उन्होंने कहा, “इस संकल्प को क्रियान्वित किया जाना चाहिए। ऐसा नहीं करना अक्षम्य होगा.”

संयुक्त राष्ट्र में अमेरिकी राजदूत लिंडा थॉमस ग्रीनफील्ड ने कहा कि प्रस्ताव इस बात पर जोर देता है कि रमजान के महीने के दौरान “हमें शांति के लिए फिर से प्रतिबद्ध होना चाहिए. हमास समझौते को स्वीकार करके ऐसा कर सकता है. बंधकों की रिहाई के साथ ही युद्धविराम तुरंत प्रभावी हो सकता है.”

उन्होंने कहा, “और इसलिए, हमें हमास पर ऐसा करने के लिए दबाव डालना चाहिए. युद्धविराम सुनिश्चित करने और बंधकों की रिहाई का यही एकमात्र रास्ता है, जैसा कि हम सभी ने आज आह्वान किया है.” संयुक्त राष्ट्र में ब्रिटेन की स्थायी राजदूत बारबरा वुडवर्ड ने कहा कि उनका देश लंबे समय से स्थायी युद्धविराम के लिए तत्काल मानवीय आधार पर संघर्ष रोकने की मांग कर रहा है. उन्होंने हमास द्वारा बंधक बनाए लोगों की तत्काल रिहाई पर भी जोर दिया.

रमजान माह 10 मार्च से नौ अप्रैल तक है. इसका मतलब है कि प्रस्ताव को मंजूरी मिलने के बाद भी संघर्ष विराम की अवधि केवल दो सप्ताह ही रहेगी. हालांकि, मसौदे में कहा गया है “स्थायी संघर्ष विराम होना चाहिए.” पहले इस प्रस्ताव पर मतदान शनिवार सुबह होना था, लेकिन इसके प्रायोजकों ने सोमवार सुबह तक के लिए इसे स्थगित कर दिया.

फिलिस्तीनी चरमंथियों हमास ने इजरायल में सात अक्टूबर को अचानक हमला कर दिया था, जिसमें लगभग 1,200 लोगों की हत्या कर दी थी और करीब 250 लोगों को बंधक बना लिया था, जिसके बाद युद्ध शुरू हो गया. माना जाता है कि हमास ने अब भी लगभग 100 लोगों को बंधक बना रखा है. गाजा में स्वास्थ्य मंत्रालय ने क्षेत्र में मरने वालों की संख्या लगभग 32,000 बताई है.

Tags: Gaza, Hamas, Israel, United nations, UNSC

Source : hindi.news18.com