दिन भर सुपरचार्ज रहने के लिए 2-4 चम्मच ही काफी, रोज मिल गया तो टेंशन खत्म – News18

Avocado supercharge you all the day: हाल के दिनों में एवोकाडो आम लोगों की नजरों में आया है. पहले इसे देखकर लोग नाक-भौं सिकोड़ लेते थे. कहते थे पता नहीं कैन सा फल है. लेकिन अब जब इसमें भरे गुणों की वैज्ञानिकता प्रमाणित हो चुके हैं तो लोग इसे लेने के लिए लालायित रहते हैं. अगर वैज्ञानिक प्रमाणों की मानें तो एवोकाडो वास्तव में गुणों का खान है. इसमें पोषक तत्व गुंथे होते हैं. मोनोसैचुरेटेड फैट और फाइबर सबसे ज्यादा होता है जिसके कारण यह पेट और हार्ट का सबसे बड़ा दोस्त साबित हो सकता है. वहीं इसमें इतनी कैलोरी होती है कि सुबह में अगर खा लिए दो दिन भर सुपरचार्ज रहेंगे. इतना ही नहीं एवोकाडो का सेवन ब्लड शुगर, ब्लड प्रेशर और कोलेस्ट्रॉल बढ़ने के झंझट से आपको मुक्त कर सकता है. एवोकाडो को कितनी मात्रा में खाना चाहिए और इसके क्या-क्या फायदे हैं, इसे लेकर न्यूज 18 ने अपोलो अस्पताल, बेंगलुरु में चीफ क्लिनिकल न्यूट्रिशनिस्ट डॉ. प्रियंका रोहतगी से बात की.

कितना खाना चाहिए
डॉ. प्रियंका रोहतगी ने बताया कि एक एवोकाडो का एक तिहाई से लेकर आधा हिस्सा एक दिन के लिए काफी है. यानी यह करीब 55 से 60 ग्राम के आसपास है. इसका मतलब यह हुआ कि अगर आप 2 से चार चम्मच के बीच एवोकाडो का खा लिया तो आपके लिए यह परफेक्ट हो गया. क्योंकि एवोकाडो में इतने डेंस पोषक तत्व होते हैं कि ज्यादा खाने पर यह नुकसान भी कर सकता है. सिर्फ एक एवोकाडो में 20-25 ग्राम हेल्दी फैट होता. इसी से अंदाजा लगाया जा सकता है कि यह कितना बड़ा हेल्दी फैट का स्रोत है. हेल्दी फैट का मतलब है कि आपका हार्ट फौलाद बना रहेगा और हार्ट संबंधी किसी तरह की बीमारी होने से बचेगा. इतना ही नहीं एवोकाडो में कैलोरी भी कम नहीं होती. एक एवोकाडो में 200 से 300 तक कैलोरी होती है. इसलिए जब एवोकाडो का ज्यादा सेवन कर लेंगे तब कैलोरी का ओवरफ्लो होने लगेगा और जब यह खर्च नहीं होगा तो मोटापा भी बढ़ेगा. इसलिए 2 से 4 चम्मच ही एवोकाडो काफी है. ज्यादा का सेवन न केरं.

एवोकाडो के फायदे
एवोकाडो में सिर्फ हेल्दी फैट का ही खजाना नहीं है बल्कि यह विटामिन और मिनिरल्स का भी खजाना होता है और इसमें फाइबर का भी भंडार होता है. एवोकाडो में कई तरह के एंटीऑक्सीडेंट्स और एंटी-इंफ्लामेटरी तत्व होते हैं. इससे इम्यूनिटी बूस्ट होता है जिसके कारण कई तरह के इंफेक्शन से रक्षा होती है. दूसरी ओर एंटी-इंफ्लामेटरी होने के कारण यह सेल्स से फ्री रेडिकल्स को हटाते हैं जिससे सेल का ऑक्सिडेटिव स्ट्रेस कम होता है और इस वजह से यह कई क्रोनिक बीमारियों को होने से रोकता है. जैसे हार्ट डिजीज, डायबिटीज, लिवर डिजीज, कैंसर आदि के लिए फ्री रेडिकल्स ही मुख्य वजह होता है. ऐसे में एवोकाडो इन बीमारियों के जोखिम को बहुत हद तक कम करता है.

इसे भी पढ़ें-पूरे जीवन को सुधार देगा ओकरा का पानी, बनने वाला है अगला सुपरफूड ड्रिंक, झट से साफ होगा पेट, वजन पर लगेगा लगाम

इसे भी पढ़ें-ये लो, विज्ञान ने निकाल दिया खुश रहने का सिंपल तरीका, ये हैं साइंस ऑफ हैप्पीनेस के 7 सूत्र, जिम जाने से बेहतर फायदा

Tags: Health, Health News, Health tips, Lifestyle

Source : hindi.news18.com