झाड़ू ने बदली 5 वीं पास इस युवक की तकदीर, कम लागत में कमा रहे अच्छा मुनाफा – News18

सौरभ वर्मा/ रायबरेली: कहते हैं “मंजिल उन्हीं को मिलती है, जिनके हौसलों में जान होती है, पंखों से कुछ नहीं होता, हौंसलों से ही उड़ान होती है. ऐसा ही कुछ कर दिखाया रायबरेली जिले के रहने वाले मोहम्मद नफीस ने जो लोगों के लिए मिसाल बन गए हैं. दरअसल, रायबरेली जनपद के बछरावां थाना क्षेत्र अंतर्गत अमवा गांव के रहने वाले मोहम्मद नफीस बेहद गरीब परिवार से आते हैं. पिता किसी तरह से परिवार का भरण पोषण करते थे. इसीलिए वह पढ़ाई नहीं कर सके. उन्होंने 5 वीं तक की शिक्षा गांव के ही प्राथमिक विद्यालय से हासिल की. जब पैसों की तंगी के करण उनकी पढ़ाई छूट गई तो उन्होंने खजूर की पत्तियों से झाड़ू बनाने का काम शुरू कर दिया. जिससे वह अच्छा मुनाफा कमा रहे हैं.

मोहम्मद नफीस के मुताबिक झाड़ू बनाने का काम उनका पुश्तैनी व्यवसाय है. उनके पिता इस काम को बहुत ही छोटे स्तर पर करते थे लेकिन उन्होंने अपने पिता के काम को संभाला और बड़े स्तर पर शुरू कर दिया. जिससे वह अच्छी कमाई कर रहे हैं. वह बताते हैं कि वह खजूर के पत्तों को खरीदने में लगभग 10 से 15 हजार रुपए की लागत आती है.

ऐसे तैयार होती है झाड़ू
मोहम्मद नफीस ने बताया कि खजूर की पत्तियों से झाड़ू बनाने के लिए उन्हें पहले पानी में भिगोकर रखना पड़ता है. उसके बाद पत्तों को सुखाकर पत्तों को एक साइड में काटना पड़ता है. बाद में पत्तों को इकट्ठा करके एक साइड में रबड़ की सहायता से बंद कर दिया जाता है तथा लकड़ी से बनी पाटे पर झाड़ू को छिटकना पड़ता है.

हर महीने 50 हजार की कमाई
Local 18 से बात करते हुए मोहम्मद नफीस बताते हैं कि वह झाड़ू को तैयार करने के बाद रायबरेली से लेकर लखनऊ की बाजारों में बिक्री के लिए भेजते हैं. जहा से उन्हें अच्छा मुनाफा मिल जाता है. आगे की जानकारी देते हुए बताते हैं कि वह महीने में लगभग 50 हजार रुपए तक की आसानी से कमाई कर लेते हैं.

Tags: Local18, Rae Bareli News, Uttar Pradesh News Hindi

Source : hindi.news18.com