नहीं होगी गोभी-मटर की कमी, इस राज्य में बंपर पैदावार, किसानों को खूब फायदा – News18

शिमलाः गर्मी के सीजन में गोभी-मटर ने किसानों को मालामाल करना शुरू कर दिया है. शिमला की ढल्ली सब्जी मंडी में गोभी-मटर की फसलों की अच्छी आमद शुरू हो गई है. किसानों को दाम भी बढ़िया मिल रहे हैं. किसानों की मानें तो इस बार कई वर्षों के बाद मटर के इतने बेहतर दाम मिले हैं. गोभी के भी सामान्य से अच्छे दाम मिल रहे हैं. बता दें कि मटर 65 से 66 रुपये किलो और गोभी 25 रुपये किलो के अनुसार बिक रही है. इस बार मटर की अच्छी क्वालिटी देखने को मिल रही है. वहीं इसकी मांग भी बढ़ती जा रही है.

टयाली गांव से देवी राम और बलग गांव से राकेश पांडे अपनी फसल लेकर सब्जी मंडी ढल्ली पहुंचे. मटर और गोभी के दामों को लेकर किसान संतुष्ट हैं. बताया कि कई वर्षों बाद उन्हें इस तरह के दाम मिल रहे हैं. मटर के दाम अच्छे मिल रहे हैं. गोभी की फसल को तैयार होने में करीब 4 महीने का समय लगता है. वहीं मटर की फसल तैयार होने में 5-6 महीने लगते हैं. इसके अलावा तापमान पर भी फसल निर्भर करती है. ठंडे तापमान में फसल को तैयार होने में समय लगता है और गरम में जल्दी तैयार हो जाती है. यही कारण है कि इस वर्ष ज्यादा गर्मी होने से मटर की फसल 15 दिन पहले ही तैयार हो गई है.

कहां से पहुंच रही मटर-गोभी फसल
ढल्ली सब्जी मंडी के दुकानदार जय कुमार ने बताया कि मटर अबकी सबसे ज्यादा आ रही है. इसलिए आने वाले दिनों में दाम में उतार-चढ़ाव देखने को मिल सकता है. मौजूदा समय में करसोग और शिमला की लोअर बेल्ट से मटर की फसल पहुंच रही है. सैंज, पराला और मडौग से गोभी की फसल आ रही है. रोज गोभी की 400 से 500 बोरियां मंडी में आ रही हैं. वहीं रोज़ाना मटर के 10 से 12 ट्रक पहुंच रहे हैं. यदि आज की बात करें तो मटर के 15 ट्रक मंडी में पहुंचे हैं. इस समय मटर की मांग पुणे, मुंबई, अहमदाबाद, सूरत आदि क्षेत्रों में ज्यादा है. हालांकि, मटर दिल्ली भी जा रही है और वहां भी अच्छे दाम मिल रहे हैं.

.

FIRST PUBLISHED : May 1, 2024, 12:08 IST

Source : hindi.news18.com