जून में जाना है चार धाम तो करें ये काम, 20 लाख लोगों ने कराए अब तक रजिस्ट्रेशन – News18

देहरादूनः चारधाम यात्रा को लेकर लोगों में किस तरह की उत्सुकता है, ये आंकड़ों से साफ नजर आ रही है. 10 मई से शुरू होने वाली यात्रा के लिए अभी तक 20 लाख 48 हजार से अधिक लोगों ने रजिस्ट्रेशन कराया है. ये वो लोग हैं, जो मई के महीने में दर्शन करने जाएंगे. वहीं अब जून महीने के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन शुरू हो गया है. वहीं 8 मई से ऑफलाइन रजिस्ट्रेशन शुरू होगा, जिसकी व्यवस्था हरिद्वार और ऋषिकेश में की जाएगी.

इसके अलावा केदारनाथ धाम के लिए हेली सेवा की भी बुकिंग शुरू कर दी गई है और इसके लिए सोमवार के IRCTC पोर्टल खुल जाएगा. बताया जा रहा है कि दोपहर 12 बजे वेबसाइट खुलेगी. दरअसल, मई, जून महीने में कैंसिल हुए टिकट के लिए बुकिंग होगी. श्रद्धालु ऑनलाइन बुकिंग करा सकेंगे.

आगामी दस तारीख से शुरू होने वाली चारधाम यात्रा की तैयारियों को परखने के लिए बृहस्पतिवार को ‘मॉक ड्रिल’ किया गया और मुख्य सचिव राधा रतूड़ी ने केदारनाथ और बदरीनाथ में व्यवस्थाओं का जायजा लिया. गंगोत्री, यमुनोत्री और केदारनाथ के कपाट 10 मई से खुलने जा रहे हैं और उसके दो दिन बाद 12 मई को बदरीनाथ के कपाट खुलेंगे. यात्रा शुरू होने से पहले ही देशभर के श्रद्धालुओं में जबरदस्त उत्साह देखा जा रहा है. तीर्थयात्रियों की भारी आमद को देखते हुए उत्तराखंड राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण तथा राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने ‘मॉक ड्रिल’ का आयोजन किया जिसमें यात्रा मार्ग पर पड़ने वाले सभी जिलों ने आपात स्थिति से निपटने के लिए अपनी-अपनी कार्ययोजना पेश की.

उत्तरकाशी के नेताला में भूस्खलन तथा सड़क अवरूद्ध होना, चीड़बासा में बादल फटना, बदरीनाथ में भूकंप तथा भगदड़, गोपेश्वर में आग, बाजपुर में सड़क अवरूद्ध, गौचर में सड़क हादसा, कलियासौड़ में बस दुर्घटना, हरकी पौड़ी में भगदड़ तथा देहरादून में राजपुर रोड स्थित राजकीय कन्या इंटर कालेज में भूकंप की ‘मॉक ड्रिल’ की गई. मुख्य सचिव रतूड़ी ने केदारनाथ और बदरीनाथ धाम पहुंचकर व्यवस्थाओं का निरीक्षण किया. उन्होंने अधिकारियों को केदारनाथ में जारी सभी अनिवार्य कार्यों को मंदिर के कपाट खुलने से पहले ही पूरे करने के निर्देश दिए जिससे श्रद्धालुओं को किसी भी प्रकार की परेशानी न हो.

Tags: Char Dham Yatra, Kedarnath Dham

Source : hindi.news18.com