माता-पिता करते रहे इग्‍नोर, शादी से पहले बेटी के पेट में जो मिला, टूट गए अरमान – News18

नई दिल्‍ली. भारत के पड़ोसी देश चीन में एक हैरान करने वाला मामले सामने आया. एक 27 वर्षीय महिला ने शादी करने के सपने संजोए थे. उसका रिश्‍ता तय हो गया और जल्‍द ही शादी भी होने वाली थी लेकिन किस्‍मत को कुछ और ही मंजूर था. मासिक धर्म न आने की चिंता के बाद वो चिकित्सा जांच के लिए एक डॉक्टर के पास गई. साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्‍ट की खबर के अनुसार 18 साल की उम्र में ही उसका असामान्य हार्मोन स्तर का डायगनोस किया गया था. डॉक्टरों ने उस समय महिला के माता-पिता को बेटी के कुछ परीक्षण कराने के लिए कहा था, लेकिन परिवार ने सलाह को नजरअंदाज कर दिया. अब उनकी मेडिकल जांच में चौंकाने वाला सच सामने आया.

डॉक्टरों को उसके पेट में एक अंडकोष मिला और पता चला कि वह जन्मजात एड्रेनल हाइपरप्लासिया (सीएएच) नामक एक दुर्लभ विकार से पीड़ित है. यह दुर्लभ विकार 50,000 नवजात शिशुओं में से केवल 1 में पाया जाता है. स्त्री रोग विशेषज्ञ डुआन जी ने पुष्टि की कि“सामाजिक रूप से वो एक महिला हैं लेकिन गुणसूत्र की दृष्टि से वह पुरुष है.” अंडकोष प्रजनन प्रणाली का हिस्सा होता हैं जिन्हें पुरुष बच्‍चे के जन्‍म के लिए शुक्राणु बनाता है.

ऑपरेशन कर पेट से निकाला गया…
वो जीवन के 27 साल तक एक महिला के रूप में रहीं. अब उन्हें सच्चाई स्वीकार करने में कठिनाई हो रही थी. परीक्षण के नतीजों से यह भी पता चला कि प्रारंभिक उपचार की कमी के कारण वो ऑस्टियोपोरोसिस और विटामिन डी की कमी से पीड़ित हैं. डॉक्टरों ने युवती के पेट में छिपे अंडकोष को तुरंत हटाने की आवश्यकता पर बल दिया क्योंकि इससे कैंसर का खतरा अधिक था. अप्रैल के पहले सप्ताह में सर्जरी की गई और उसके पेट से अंडकोष हटा दिए गए.अब उसे नियमित अनुवर्ती परीक्षण और दीर्घकालिक हार्मोन थेरेपी की आवश्यकता है. इस युवती की कहानी अब चीन में सोशल मीडिया पर वायरल हो गई है और कई लोगों ने उसके प्रति सहानुभूति व्यक्त की है और उसकी बहादुरी की प्रशंसा की है.

FIRST PUBLISHED : May 6, 2024, 23:09 IST

Source : hindi.news18.com