युद्ध विराम को हमास तैयार, पर इजरायल का इनकार… राफा में घुसा दिए टैंक – News18

तेल अवीव. हमास ने सोमवार को ऐलान किया कि उसने गाजा में युद्धविराम समझौते की शर्तों को स्वीकार कर लिया है. हालांकि उसके इस ऐलान के बावजूद फिलिस्तीन के राफा इलाके पर इजरायली बलों की तरफ से हमला किया गया. यहूदी राष्ट्र ने कहा कि फिलिस्तीनी आतंकवादी समूह की शर्तें उसकी ‘मुख्य मांगों’ को पूरा नहीं करती हैं और उसने संघर्ष विराम समझौते पर आगे की बातचीत जारी रखने की योजना बनाई है.

इसके बाद इजरायली रक्षा बलों ने ऐलान किया कि वह ‘पूर्वी राफा में हमास के आतंकी ठिकानों पर लक्षित हमले कर रहा है.’ उधर एसोसिएटेड प्रेस ने फिलिस्तीनी और मिस्र के अधिकारियों का हवाला देते हुए एक रिपोर्ट में कहा कि ‘इजरायली टैंक गाजा में हमास के आखिरी गढ़ राफा में प्रवेश कर गए, जो मिस्र की सीमा से 200 मीटर के करीब पहुंच गए.’

यह भी पढ़ें- सुनीता विलियम्स तीसरी बार नहीं जा सकीं अंतरिक्ष, आखिरी वक्त में क्यों टालनी पड़ी उड़ान?

इससे पहले बीबीसी की रिपोर्ट के अनुसार, हमास ने अपनी आधिकारिक वेबसाइट पर प्रकाशित एक बयान में कहा कि उसने कतर और मिस्र के मध्यस्थों को अपने फैसले के बारे में सूचित कर दिया है. इसमें कहा गया है कि इसके नेता इस्माइल हनियेह ने कतर के प्रधानमंत्री शेख मोहम्मद बिन अब्दुलरहमान अल थानी और मिस्र के खुफिया मंत्री अब्बास कामेल के साथ एक टेलीफोन कॉल की और उन्हें युद्धविराम समझौते के संबंध में हमास द्वारा उनके प्रस्ताव को मंजूरी देने की जानकारी दी.

हमास ने कहा कि अब जवाब देना इजरायल पर निर्भर है. हालांकि युद्धविराम समझौते का ब्‍योरा, खासकर इसकी अवधि और गाजा में इजरायली बंदियों की संख्‍या अभी भी ज्ञात नहीं है. ऐसी भी खबरें थीं कि इजरायल युद्धविराम समझौते पर पूरी तरह सहमत नहीं है, लेकिन उसकी ओर से अभी तक कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है.

यह भी पढ़ें- प्रज्वल रेवन्ना के वीडियो किसने किए जारी? बीजेपी नेता ने लगाए गंभीर आरोप, डीके शिवकुमार ने दिया जवाब

इजराइल के चैनल 12 ने इजरायली अधिकारियों के हवाले से कहा कि उनकी वार्ता टीम को मध्यस्थों से हमास की प्रतिक्रिया मिली है और अब वह सावधानीपूर्वक इसका मूल्यांकन कर रही है. इसने अधिकारियों के हवाले से यह भी कहा कि ‘यह उस सौदे के लिए प्रस्ताव नहीं है, जिस पर इजरायल और मिस्र 10 दिन पहले सहमत हुए थे. यह तब से अप्रत्यक्ष वार्ता के आधार के रूप में काम करता है.

यह घटनाक्रम अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन द्वारा इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू के साथ एक फोन कॉल के दौरान ‘राफा पर अपनी स्पष्ट स्थिति’ दोहराने के तुरंत बाद आया कि वह वहां शरण लेने वाले नागरिकों की मदद करने की योजना के बिना राफा पर हमले का समर्थन नहीं करेगा.

रविवार को जब हमास द्वारा बंधक बनाए गए बंधकों की रिहाई के बदले में इजरायल के गाजा हमले को रोकने के लिए एक समझौते पर बातचीत करने के लिए मिस्र में बातचीत फिर से शुरू हुई, तो नेतन्याहू ने कहा कि उनका देश गाजा में युद्ध खत्‍म करने के लिए हमास की मांगों को कबूल नहीं करेगा.

Tags: Hamas, Israel air strikes, Israel-Palestine Conflict

Source : hindi.news18.com