स्किल डेवलपमेंट से सुधरेगा बच्चों का भविष्य, स्कूलों में मिलेगी विशेष ट्रेनिंग – News18

अंजू प्रजापति/रामपुर: जिले में स्थित परिषदीय विद्यालय के बच्चों को अब लर्निंग बाई डूइंग के जरिये हुनरमंद बनाया जाएगा. इसके लिए बच्चों को विभिन्न प्रकार के कौशल में शिक्षा और प्रशिक्षण मिलेगा. ये ट्रेनिंग उन्हें भविष्य में रोजगार के अवसरों के लिए तैयार करेगा. जिले के हर ब्लॉक में दो-दो स्किल लैब तैयार की जा रही हैं. इन विद्यालयों में छात्रों की संख्या 150 से अधिक होगी. उन्ही में से दो स्कूलों का चयन किया जाएगा.

स्कूली बच्चों को शिक्षा के साथ-साथ कौशल सिखाने के लिए भी शिक्षा विभाग काम कर रहा है. राष्ट्रीय शिक्षा नीति के तहत विद्यालयों को कौशल केंद्र के रूप में विकसित किया जाना है. शिक्षा विभाग की ओर से इसको लेकर तैयारियां शुरू कर दी गई है. जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी रामपुर संजीव कुमार ने बताया कि लर्निंग बाई डूइंग के तहत कार्यक्रम चलाया जा रहा है. इसके तहत प्रत्येक ब्लॉक से दो उच्च प्राथमिक विद्यालय को चयनित किया गया है. पूरे जनपद से कुल 14 स्कूलों का चयन किया गया है. लर्निंग बाय डूइंग के तहत स्कूलों में ही बच्चों को विभिन्न माध्यमों से करके सीखने का अवसर दिया जाएगा.

शिक्षक और प्रशिक्षक बच्चों को चार ट्रेड में करेंगे दक्ष
आगे उन्होंने कहा कि कार्य में बदलाव करते हुए, यह ट्रेड नर्सरी एवं गार्डनिंग, इंजीनियरिंग एंड वर्कशॉप, एग्रीकल्चर, एनर्जी एंड एनवायरमेंट और होमगार्ड हेल्थ शामिल है. विद्यालय भवन के रखरखाव और सामग्री खरीदने के लिए 28,774 रुपये अलाट किए गए हैं. चयनित विद्यालयों में प्रयोगशाला के लिए चार ट्रेड से जुड़े टूल, किट लैब से जुड़ी अन्य आवश्यक सामग्री जल्द ही भेजी जाएगी.

पहले चरण में प्रत्येक ब्लॉक के इन विद्यालयों में तैयार होगी लैब
– बिलासपुर में यू.पी.एस बिढ़ऊ और यू.पी.एस गजरौला
– चमरौआ में यू.पी.एस सनैया जट कंपोजिट और यू.पी.एस पत्थर खेड़ा कंपोजिट
– मिलक में यू.पी.एस लोहा कंपोजिट और यू.पी.एस मिलक कंपोजिट
– नगर क्षेत्र मॉडल मोंटेसरी स्कूल और यू.पी.एस अगापुर कंपोजिट
– सैदनगर में यू.पी.एस दिलपुरा कंपोजिट और यू.पी.एस सूरतसिंह पुर
– शाहाबाद में यू.पी.एस चौकोनी कंपोजिट और यू.पी.एस रमपुरा
– स्वार में यू.पी.एस विजारखाता कंपोजिट और यू.पी.एस लखीमपुर

Tags: Local18, Rampur news

Source : hindi.news18.com