अब्बास अंसारी से SC ने पूछा सवाल- कार्यक्रम 4 जून के बाद क्यों नहीं हो सकता? – News18

नई दिल्ली. मुख्तार अंसारी के मौत के बाद परिवार के साथ बचे हुए कार्यक्रम में अब्बास आंसारी के शामिल होने की मांग के मामले में सुप्रीम कोर्ट से अब्बास अंसारी को फिलहाल राहत नहीं मिली है. सुप्रीम कोर्ट ने अब्बास अंसारी के वकील से पूछा कि यह कार्यक्रम 4 जून के बाद क्यों नहीं हो सकता है. अब्बास अंसारी के वकील ने सुप्रीम कोर्ट से कहा कि वह 15 मई से कस्टडी पेरोल में गाजीपुर अपने घर जाना चाहते हैं. सुप्रीम कोर्ट में यूपी सरकार ने अब्बास अंसारी की इस मांग का विरोध किया. सुप्रीम कोर्ट ने यूपी सरकार की दलील सुनने के बाद कहा कि हम भी अब्बास अंसारी की सुरक्षा को लेकर चिंतित हैं. सुप्रीम कोर्ट ने मामले की सुनवाई 15 मई तक के लिए टाल दी है.

वहीं अब्बास अंसारी ने सुप्रीम कोर्ट को बताया कि वह सुप्रीम कोर्ट के मंगलवार के आदेश का लाभ नहीं लेना चाहते हैं, जिसमें उन्हें एक धार्मिक समारोह में वीडियो के जरिये हिस्सा लेने की अनुमति दी गई है. गौरतलब है कि मुख्तार अंसारी का 28 मार्च को उत्तर प्रदेश के बांदा के एक अस्पताल में दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया. अब्बास अंसारी एक आपराधिक मामले के सिलसिले में जेल में हैं. मंगलवार को अदालत ने अंतरिम उपाय के रूप में अब्बास अंसारी को अपने दिवंगत पिता की मृत्यु के 40वें दिन वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से आयोजित एक धार्मिक समारोह में भाग लेने की अनुमति दी थी.

इस तथ्य को ध्यान में रखते हुए कि आम चुनाव चल रहे हैं और पुलिस अधिकारी वहां ड्यूटी पर व्यस्त हैं, जस्टिस सूर्यकांत और न्यायमूर्ति केवी विश्वनाथन की खंडपीठ ने अंसारी को 4 जून के बाद समारोह में शामिल होने की अनुमति के लिए एक नया आवेदन दायर करने को कहा. सुप्रीम कोर्ट ने टिप्पणी करते हुए कहा कि ‘हमें आपकी सुरक्षा का भी ध्यान रखना होगा.’ आज सुनवाई के दौरान अंसारी की ओर से वकील लजफीर अहमद पेश हुए.

शुरुआत में उन्होंने अदालत को एक नोट दिया और उन्हें 15 मई को सिर्फ परिवार, रिश्तेदारों और करीबी दोस्तों के साथ एक छोटे से अंतरंग समारोह की जानकारी दी. उन्होंने कहा कि ‘तारीखें ऐसी हैं कि यात्रा के वक्त मतदान की तारीख पर नहीं पड़ती, क्योंकि मतदान 13 मई और फिर 20 मई को है.’ इस पर जस्टिस कांत ने अहमद से पूछा कि क्या यह एक तय कार्यक्रम है. इस पर अहमद ने बताया कि ‘मैं बिल्कुल साफ कर कि यह एक तय कार्यक्रम नहीं है. यह एक कार्यक्रम है जिसे हम एक सुविधाजनक तारीख पर आयोजित कर रहे हैं, क्योंकि अब्बास अंसारी सभी मौकों से चूक गए हैं.’ इस पर जस्टिस कांत ने अहमद को 4 जून के बाद समारोह का कार्यक्रम तय करने का सुझाव दिया. जब आम चुनाव खत्म हो जाएगा.

Tags: Bahubali MLA Mukhtar Ansari, Mafia mukhtar ansari, Mukhtar Ansari News, Supreme Court

Source : hindi.news18.com