यह कंपनी लगा रही है देश की सबसे बड़ी ई-साइकिल फैक्‍टरी – News18

हाइलाइट्स

महाराष्‍ट्र के पुणे में बनाई जा रही है यह फैक्‍टरी. फैक्‍टरी का पहला चरण का निर्माण होने वाला है पूरा. 15 अगस्‍त, 2024 को हो जाएगा परिचालन शुरू.

नई दिल्‍ली. इलेक्ट्रिक साइकिल बनाने वाली कंपनी, ईमोटोरैड (EMotorad) भारत में ई-साइकिल (Electric Cycle) बनाने की सबसे बड़ी फैक्‍टरी लगा रही है. महाराष्‍ट्र के पुणे के पास रावेत में बन रही इस गीगाफैक्‍ट्री का निर्माण 2 लाख 40 हजार वर्गफीट पर हो रहा है. इसका पहला चरण पूरा होने की दहलीज पर है. ईमोटोरैड कंपनी में क्रिकेटर महेंद्र सिंह धोनी ने भी पैसा लगाया है. पिछले महीने ही धोनी ने निवेश किया था. कैप्‍टन कूल ने ईमोटोरैड में कितना निवेश किया है, इसकी जानकारी न तो धोनी और न ही कंपनी ने दी है.

ईमोटोरैड का कहना है कि उसका मैन्युफैक्चरिंग प्लांट चार चरणों में तैयार होगा. प्लांट के व्यापक स्केल को देखते हुए उसे गीगाफैक्ट्री कहा जा रहा है. कंपनी का दावा है कि चारों चरणों के पूरा होने के बाद रावेत स्थित गीगाफैक्ट्री पूरे दक्षिण एशिया में सबसे बड़ी और दुनिया में दूसरी सबसे बड़ी इंटीग्रेटेड ई-साइकिल फैसिलिटी होगी. फैक्‍टरी का परिचालन 15 अगस्‍त से शुरू हो जाएगा.

ये भी पढ़ें- ये है देश की सबसे तेज दौड़ने वाली ट्रेन, रफ्तार के आगे चीता भी पानी मांगेगा, सफर कर आप भी करें हवा से बातें

हर साल बनेगी पांच लाख ई-साइकिलें
कंपनी का कहना है कि परिचालन शुरू होने के बाद प्लांट की क्षमता सालाना 5 लाख इलेक्ट्रिक साइकिल बनाने की होगी. कंपनी इस प्लांट में ई-साइकिल में इस्तेमाल होने वाले बहुत से कल-पुर्जे बनाएगी और असेंबल करेगी. कंपनी की योजना प्लांट में बैटरी, मोटर, डिस्प्ले और चार्जर बनाने की है. आने वाले दिनों में ईमोटोरैड नई इलेक्ट्रिक साइकिलों के साथ नए इनोवेटिव उत्पादों को लॉन्च कर सकती है.

ये भी पढ़ें- ₹ 600 से कम कीमत, 3 साल में दे चुका 650 फीसदी मुनाफा, इस सेमीकंडक्‍टर स्‍टॉक में अभी बचा है खूब दम

कर्मचारी की होगी भर्ती
कंपनी प्लांट के परिचालन के लिए अतिरिक्त कर्मचारियों की भर्ती भी करने वाली है. अभी कंपनी के पास 250 कर्मचारी हैं. कंपनी 300 नए कर्मचारियों को भर्ती करने की योजना बना रही है. ईमोटोरड के सह-संस्थापक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी कुणाल गुप्ता का कहना है कि इलेक्ट्रिक साइकिल का बाजार बहुत बड़ा है. वैश्विक स्तर पर ई-साइकिल की मांग बढ़ रही. साल 2022 वैश्विक ई-साइकिल बाजार की कीमत 40 बिलियन डॉलर थी और यह लगातार बढ़ रही है.

Tags: Business news in hindi, Electric Bicycles, Ms dhoni, MS Dhoni news

Source : hindi.news18.com