क्या भारत के अलावा किसी और देश में महिलाएं साड़ी पहनती हैं? – News18

साड़ी को भारत का परंपरागत परिधान माना जाता है. लेकिन आजकल यह फैशन का हिस्सा होकर दुनिया भर में फैलता जा रहा है. दुनिया के कई सेलिब्रिटी कई मौकों पर साड़ी पहनी दिख जाती हैं और यह अब कभी कभार होने वाली घटना नहीं रह गई है. साड़ी काफी पहले ही फैशन शो का हिस्सा बन चुकी है. पर क्या साड़ी भारत के अलावा दूसरे देशों का भी आम पहनावा है? जी हां, यह सच है. लेकिन कम लोग ही जानते हैं कि भारत के अलावा वो कौन से देश हैं जहां महिलाएं साड़ी पहनती हैं.

साड़ी मूल रूप से भारत का परिधान ही मानी जाती है. यह देश का सबसे पुराना परिधान है जिसे महिलाएं संस्कृति के शुरुआत से ही पहनती आ रही हैं. लेकिन आज हालात कुछ अलग हैं. यह दुनिया के कई देशों में पहुंच चुकी है. कुछ देशों में यह फैशन के तौर ही पहुंची है तो कहीं यह बहुत सालों पहले पहुंच कर यहां की संस्कृति का हिस्सा बन गई है.

अपने सवाल का जवाब देने से पहले हम आपको यह बता दें कि साड़ी भारत की ही नहीं बल्कि दक्षिण एशिया में महिलाओं का प्रमुख पहनावा मानी जाती है. यह भारत के अलावा श्रीलंका, पाकिस्तान, नेपाल और बांग्लादेश में प्रमुख रूप से पहनी जाती है. बहुत से लोग साड़ी को एशिया का प्रमुख पहनावा भी मानते हैं.

साड़ी आज फैशन के जरिए दुनिया भर में पहुंच चुकी है. (प्रतीकात्मक तस्वीर: Canva)

इसलिए हैरानी की बात नहीं है कि मलेशिया और म्यांमार जैसे देश में भी महिलाएं अक्सर साड़ी में देखी जाती हैं. लेकिन वैश्वीकरण के बाद से दुनिया में साड़ी भी फैशन के रूप में तेजी से फैलती दिखाई दी है. भारत के लोगों ने दुनिया को साड़ी के पहनने के विविध संभावनाओं से दुनिया को परिचित कराया है जिसे यह लंदन, मॉस्को अमेरिका, यूरोप के कई देशों में चलन में आने लगी है. मिडिल ईस्ट में भी साड़ी को बहुत ज्यादा अपनाया जाने लगा है. यहां भारत से जाने वाले लोगों ने इसे इन देशों में लोगों से साड़ी का परिचय करवाया है.

यह भी पढ़ें: ये हैं दुनिया के सबसे अजीबोगरीब अंधविश्वास, यकीन नहीं होगा, आज भी लोग मानते हैं कि ये करते हैं काम!

साड़ी को दुनिया में पसंद किए जाने की वजह उसके पहनने के तरीकों में विविधता है. साड़ियों के प्रकार तो बहुत अधिक संख्या में हैं ही,उसे कई तरह से पहना जा सकता है. कई फैशन स्वरूपों में ढाला जा सकता है. कई मौसम के हिसाब से भी पहना जा सकता है. इसकी एक और खासियत यह भी है कि यह बहुत सी संस्कृतियों में ढल सकती है.

Tags: Ajab Gajab news, Bizarre news, OMG News, Weird news

Source : hindi.news18.com